अरविंद केजरीवाल ने कहा- दिल्ली के अस्पताल में सबका इलाज होगा, 31 जुलाई तक चाहिए 1.5 लाख बेड

नई दिल्ली: देश की राजधानी दिल्ली में लगातार कोरोना के बढ़ते मामलों पर आज मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की है. सीएम केजरीवाल ने उपराज्यपाल अनिल बैजल के आदेश को दोहराते हुए कहा है कि अब दिल्ली के अस्पताल में सबका इलाज होगा. प्रेस कॉन्फ्रेंस में केजरीवाल ने बताया है कि 31 जुलाई तक दिल्ली को 1.5 लाख बेड की जरूरत होगी.

दिल्ली में अबतक 900 से ज्यादा लोगों की जान गई

सीएम केजरीवाल ने आगे कहा, ”दिल्ली में अभी कोरोना के लगभग 31 हज़ार मामले हैं. इसमें कुल 12 हज़ार लोग ठीक हो गए हैं. 18 हज़ार एक्टिव केस में 15 हज़ार लोग होम आइसोलेशन में हैं.” दिल्ली में जानलेवा कोरोना वायरस से अबतक 900 से ज्यादा लोगों की जान चली गई है.

वाल ने आगे कहा, ”दिल्ली में आगे कोरोना और तेज़ी से फैलने वाला है. 15 जून तक यहां 44 हज़ार केस होंगे. वहीं 15 जुलाई तक सवा दो लाख केस हो जाएंगे. 31 जुलाई तक पांच लाख से ज्यादा केस होंगे.” उन्होंने कहा, ”दि्ल्ली में 31 जुलाई तक डेढ़ लाथ बेड की ज़रूरत होगी. कोरोना से हमें अगर बचना हो, तो इस जन आंदोलन बनाना होगा.”

दिल्ली में अब सब का इलाज होगा- केजरीवाल

केजरीवाल ने आगे कहा, ”दिल्ली में एक चुनी हुई सराकर के फैसले पलटे गए. अब केंद्र ने फैसला ले लिया है, तो यह समय असहमति का नहीं है. उपराज्यपाल के आदेश को ही लागू किया जाएगा. केंद्र सरकार से कोई झगड़ा नहीं करना है. दिल्ली में अब सब का इलाज होगा. यहां 50 प्रतिशत बाहर के लोग इलाज कराते हैं. सभी के लिए कुल डेढ़ लाख बेड की ज़रूरत होगी. 31 जुलाई तक डेढ़ लाख बेड चाहिए होंगे.” उन्होंने आगे कहा कि स्टेडियम और हॉल को कोरोना के लिए तैयार किया जाएगा. हमारी कोशिशों में कोई कमी नहीं होगी. पड़ोसी राज्य भी अपने-अपने राज्यों में उचित व्यवस्था करें.

पिछले आठ दिन में 1900 मरीज़ों को बेड मिले- केजरीवाल

केजरीवाल ने यह भी बताया कि दिल्ली में पिछले आठ दिनों में 1900 लोगों को बेड मिले. यहां अभी 4,200 बेड खाली हैं. मैं मानता हूं कि 150-200 लोगों को बेड के लिए धक्के खाने पड़े.” उन्होंने कहा कि अब सभी संस्थाओं को कोरोना के खिलाफ एक होना होगा.

Related Articles