Vaccine पर अरविंद केजरीवाल का सुझाव, बोले- वैक्सीन बनाने का फॉर्मूला सावर्जनिक करे सरकार

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल बोले कि, केंद्र सरकार इन दोनों कंपनियों से वैक्सीन बनाने का फॉर्मूला लेकर उन सभी कंपनियों को दे जो सुरक्षित तरीके से वैक्सीन बना सकती हैं

नई दिल्ली: दिल्ली (Delhi) के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) ने डिजिटिल प्रेस ब्रिफ्रिंग में बोले, हम वैक्सीन की रोज सवा लाख डोज लगा रहे हैं, हम जल्दी रोज 3 लाख से अधिक लोगों को वैक्सीन लगाना शुरू कर देंगे। हमारा लक्ष्य आने वाले तीन महीने में सभी दिल्ली वालों को वैक्सीन लगाना है लेकिन Vaccine की कमी की समस्या आ रही है।

वैक्सीन बनाने का फॉर्मूला

अरविंद केजरीवाल ने बताया, दिल्ली में हमारे पास अब कुछ दिन की वैक्सीन ​बची है और ये समस्या देशव्यापी है। आज केवल दो कंपनियां वैक्सीन बना रही हैं और दोनों मिलकर महीने में केवल 6-7 करोड़ वैक्सीन बनाती हैं। इस तरह तो देश के हर व्यक्ति को वैक्सीन लगाने में हमें दो साल से ज्यादा लग जाएंगे। जब तक हर भारतीय को वैक्सीन नहीं लगती ये जंग नहीं जीती जा सकती। मैं आज एक सुझाव देना चाहता हूं। वैक्सीन बनाने का काम केवल दो कंपनियां ना करें, कई कंपनियों को वैक्सीन बनाने में लगाया जाए।

केंद्र सरकार इन दोनों कंपनियों से वैक्सीन बनाने का फॉर्मूला लेकर उन सभी कंपनियों को दे जो सुरक्षित तरीके से वैक्सीन बना सकती हैं। वैक्सीन का उत्पादन करने वाली कंपनियों के लाभ का एक अंश रॉयल्टी के रूप में उन दोनों कंपनियों को दे सकते हैं जिन्होंने मूल फॉर्मूले की खोज की है।

दूसरी लहर की पीक

दिल्ली के स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन ने बताया कि, रविवार को भी 66,000 टेस्ट हुए थे। प्रतिदिन करीब 80,000 टेस्ट हो रहे हैं। ऐसा लग रहा है कि दूसरी लहर की पीक अब धीरे धीरे कम हो रही है। दिल्ली में कोरोना के 23,000 के करीब बेड हैं जिसमें 3,500 के करीब बेड खाली हैं।

पिछले कुछ दिनों में दिल्ली की पॉजिटिविटी रेट 36% से घटकर 19% के करीब आ गई है। प्रतिदिन अधिकतम 28,000 करीब मामले गए थे अब ये कम होकर 12,500 के पास आ गए हैं।

यह भी पढ़ेलखनऊ का हज हाउस बना हाईटेक Covid Hospital, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने लिया जायजा

Related Articles