अशरफ गनी ने नाटो प्रमुख से अफगान सुरक्षा पर चर्चा की

दोनों नेताओं के बीच टेलीफोन पर बातचीत हुई। अफगान के राष्ट्रपति के प्रवक्ता सेदिक सिद्दीकी ने कल देर रात हुई फोन पर बातचीत के बारे में जानकारी दी।

काबुल: अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी और नाटो महासचिव जेन स्टोलटेनबर्ग ने बुधवार देर रात अफगानिस्तान में शांति प्रक्रिया और सैनिकों के स्तर के समायोजन पर चर्चा की।

दोनों नेताओं के बीच टेलीफोन पर बातचीत हुई। स्टोल्टेनबर्ग ने इससे पहले एक ट्वीट में अफगानों को आश्वासन दिया कि अमेरिकी सेना की कटौती के बाद भी, नाटो अंतरराष्ट्रीय आतंकवाद के खिलाफ उनकी लड़ाई में अफगान बलों को प्रशिक्षित, सलाह और सहायता करना जारी रखेगा।

अफगान के राष्ट्रपति के प्रवक्ता सेदिक सिद्दीकी ने कल देर रात हुई फोन पर बातचीत के बारे में जानकारी दी। उन्होंने ट्वीट किया, “दोनों पक्षों ने अफगान शांति प्रक्रिया के बारे में बात की और नाटो की ओर से आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में अफगान बलों को प्रशिक्षित करने, सलाह और सहायता करने के लिए निरंतर समर्थन देने का आश्वासन दिया गया।”

इस बीच, जर्मनी के विदेश मंत्री हेइको मास ने भी अफगानिस्तान से अमेरिकी सेना की जल्द वापसी के प्रति कल आगाह किया। उन्होंने कहा कि अफगानिस्तान से समय से पहले सेना की वापसी अफगान सरकार और तालिबान के बीच शांति वार्ता को जटिल बना सकती है।

यह भी पढ़े: लखनऊ विश्वविद्यालय नयी राष्ट्रीय शिक्षा नीति के साथ जुड़कर बढ़ेगा आगे: योगी

यह भी पढ़े: 95 प्रतिशत लोग मास्क पहनें तो लॉकडाउन की जरूरत नहीं: डब्ल्यूएचओ

Related Articles

Back to top button