IPL
IPL

Assam Assembly Election: ‘लोगों ने एक बार फिर NDA की सरकार बनाना तय कर लिया है’

असम के तामुलपुर में जनता का अभिवादन करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी बोले कि, लोगों ने एक बार फिर NDA की सरकार बनाना तय कर लिया है

तामुलपुर: असम (Assam) में 6 अप्रैल को होने वाले तीसरे चरण के विधानसभा चुनाव से पहले तामुलपुर में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने चुनावी जनसभा को संबोधित किया है। इस दौरान पीएम बोले कि असम में आप लोगों ने एक बार फिर NDA की सरकार बनाना तय कर लिया है।

NDA की सरकार

असम के तामुलपुर (Tamulpur) में जनता का अभिवादन करते प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने करते हुए कहा कि, असम में आप लोगों ने एक बार फिर NDA की सरकार बनाना तय कर लिया है। असम की पहचान का बार-बार अपमान करने वाले लोग, असम के लोगों को बर्दाश्त नहीं। असम को दशकों तक हिंसा और अस्थिरता देने वाले, अब असम के लोगों को एक पल भी स्वीकार नहीं हैं। असम के लोग विकास के साथ हैं।

देश में कुछ बातें ऐसी गलत चल रही हैं, अगर हम समाज में भेदभाव करके, समाज के टुकड़े करके अपने वोटबैंक के लिए कुछ दे दें तो दुर्भाग्य देखिए उसे देश में सेक्युलरिज्म कहा जाता है। लेकिन अगर सबके लिए काम करें, बिना भेदभाव के सबको देते हैं तो कहते हैं कि ये कम्युनल हैं।

बम-बंदूक का लंबा दौर

प्रधानमंत्री ने तंज कसते हुए कहा कि  कांग्रेस सरकार ने अपने समय में असम (Assam) को हिंसा, बम-बंदूक का लंबा दौर दिया। वहीं NDA सरकार असम के हर साथी को साथ लेकर शांति और समृद्धि के रास्ते पर आगे बढ़ रही है।

हमारा तो मंत्र है सबका साथ, सबका विकास, सबका विश्वास है। ये सेक्यूलरिज्म-कम्यूनिज्म के जो खेल चले हैं इसी खेल ने देश का बहुत नुकसान किया है।

चाय बागान

PM मोदी ने कहा कि यहां के चाय बागान (Tea Garden) में काम करने वाले साथियों को भी कांग्रेस ने लंबे समय तक अभाव में रखा था। चाय बागान में काम करने वाले लोगों के लिए सबसे ज्यादा काम एनडीए सरकार ने ही किया है।

MP First T Garden Will Build In Bhopal - अब मध्यप्रदेश में भी होगी चाय की  खेती, यहां से होगी शुरुआत | Patrika News

चुनाव अभी चल रहा है, मैंने कल सुना कि कुछ लोगों ने मान लिया है कि वो चुनाव हार चुके हैं और अगली सरकार कैसी बनेगी, सरकार के लोगों ने क्या पहना होगा उन्होंने इसका वर्णन किया। असम का इससे बड़ा अपमान नहीं हो सकता, अभी से 5 साल बाद असम को कब्जा करने की व्यूहरचना चौंकाने वाली बात है।

यह भी पढ़ेजानें कब है Sheetala Ashtami क्यों लगाया जाता है बासी भोजन का भोग, पढ़ें इसकी पौराणिक कथा

Related Articles

Back to top button