IPL
IPL

Assam Election 2021: ‘कांग्रेस वोट के लिए जरूरत पड़ने पर किसी को धोखा भी दे सकती है’

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी असम के बिहपुरिया में जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने बोला कि कांग्रेस वोट के लिए कुछ भी कर सकती है

बिहपुरिया: असम (Assam) में आगामी विधानसभा चुनाव 2021 में जीत के लिए भारतीय जनता पार्टी (BJP) ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। असम में विधानसभा चुनाव 3 चरणों में होंगे- प्रथम चरण का मतदान- 27 मार्च को होगा, दूसरे चरण का मतदान- 1 अप्रैल और तीसरे चरण का मतदान -6 अप्रैल को होगा। चुनाव की मतगणना (Counting of votes) 2 मई को होगी। असम के बिहपुरिया में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी पहुंचे है। असम के मुख्यमंत्री सर्बानंद सोनोवाल ने PM मोदी का किया स्वागत।

असम की पहचान को तबाह

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी असम के बिहपुरिया में जनसभा को संबोधित किया। इस दौरान उन्होंने कहा कि कांग्रेस के लंबे कालखंड में जिन सत्रों और नामघरों को अवैध कब्जाधारियों के हवाले किया गया था, उनको आज मुक्त किया गया है। ये हम सभी के लिए कितने कष्ट का कारण था कि बताद्रवा थान को भी इन्होंने नहीं छोड़ा था। इन पवित्र स्थानों की सुरक्षा के लिए कांग्रेस ने कुछ नहीं किया।

कांग्रेस का हाथ आज ऐसे लोगों के साथ है, जिसका आधार असम की पहचान को तबाह करना है। जो दल घुसपैठ पर फला-फूला हो, आज उसके वोटबैंक पर कांग्रेस असम की सत्ता हथियाना चाहती है। जो दल असम के मूलनिवासियों के साथ भेदभाव का प्रतीक रहा कांग्रेस उसके हाथ में असम को सौंपने की बात कर रही है। कांग्रेस वोट के लिए कुछ भी कर सकती है, किसी का भी साथ ले सकती है और जरूरत पड़ने पर किसी को धोखा भी दे सकती है।

कांग्रेस के विश्वासघात के सबसे बड़े पीड़ित ​असम के चाय बागान में काम करने वाले मजदूर भाई-बहन हैं। दशकों तक कांग्रेस ने बागान में काम करने वाले साथियों के लिए कुछ नहीं किया। 15 साल के शासन में ये लोग चाय बागान के श्रमिकों की मजदूरी को 100 रुपये के ऊपर भी नहीं ले जा पाए थे।

असम विधानसभा चुनाव 2021 में भारतीय जनता पार्टी (BJP) 92 सीटों पर चुनाव लड़ेगी। चुनाव के लिए BJP ने 17 उम्मीदवारों की सूची जारी की है।

यह भी पढ़ेInd vs Eng: भारतीय टीम को लग सकता बड़ा झटका, ये दो खिलाड़ी हो सकते हैं बाहर

Related Articles

Back to top button