उत्तर प्रदेश से गिरफ्तार बांग्लादेशी भाईयों से पूछताछ में ATS को मिली कई अहम जानकारियां

सहारनपुर: उत्तर प्रदेश में सहारनपुर से गिरफ्तार बांग्लादेशी दोनों भाईयों से पूछताछ में ATS को कई अहम जानकारियां मिली हैं। पुलिस ने बताया कि जांच में पता चला है कि इन दोनों भाईयों के बैंक खातों में विदेश से करीब एक करोड़ रूपया आया है। जिसमें 80 लाख रूपए इन्होंने विभिन्न खातों में ट्रांसफर किए हैं। इन्होंने एक साल के भीतर कम से कम 18 बार मोबाइल वाट्सअप के जरिए बातचीत की है।

बता दें कि सहारनपुर करीब 40 फीसदी मुस्लिम आबादी वाला क्षेत्र है और यहां देवबंदी विचारधारा के बड़े शिक्षण केंद्र मजाहिर उलूम सहारनपुर और दारूल उलूम देवबंद स्थित है। देवबंदी विचारधारा के मानने वाले पाकिस्तान के मौलाना मसूद अजहर 1999 में अपनी रिहाई से पहले वर्ष 1993.94 में दारूल उलूम आए भी थे।

22 फरवरी 2019 को यूपी ATS और सहारनपुर पुलिस ने देवबंद दारूल उलूम के पास स्थित एक प्राइवेट होस्टल में छापा मारकर जैश.ए.मोहम्मद के दो सदस्यों को गिरफ्तार किया था। ये दोनों कश्मीर के रहने वाले थे।

पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद इन दोनों युवकों ने देवबंद का रूख किया था। उनके ऊपर अपने संगठन जैश.ए.मोहम्मद के लिए फिदाईन हमले करने के लिए युवकों को तैयार करने की जिम्मेदारी थी। बांग्लादेशी घुसपैठिए और जम्मू कश्मीर से आने वाले संदिग्ध आतंकी सहारनपुर में व्यवस्था में सेंध लगाकर और सरकारी एजेंसियों की लापरवाही का फायदा उठाकर सहारनपुर और देवबंद में छिपे रहते हैं और खामोशी के साथ अपनी गतिविधियां चलाते रहते हैं।

यह भी पढ़ें: ऑस्ट्रेलियाई सेना के जवानों के खिलाफ आपराधिक मामले में होगी जांच

Related Articles

Back to top button