केशव प्रसाद मौर्य का हमला, विपक्ष की जागीर नहीं बाबा साहेब आंबेडकर

लखनऊ। बाबा साहब भीम राव अंबेडकर का नाम बदले जाने के बाद सियासत शुरू हो गई है। विपक्षी पार्टियों को इसी हमले का जवाब देते हुए उप मुख्यमंत्री केशव प्रसाद मौर्य ने कहा कि बाबा साहब विपक्षी पार्टी की कोई जागीर नहीं है। वो सवा करोड़ की जनता के दिल में बसने वाले महापुरुष हैं। दलितों के उत्थान के लिए महत्वपूर्ण काम किए। इस वक़्त हमारी सरकार के खिलाफ बोलने के लिए विपक्ष के पास कुछ नहीं है इसलिए अब बाबा साहब का मुद्दा उठा रही।

केशव प्रसाद मौर्य

ये सारी बाते केशव प्रसाद मौर्य ने आजमगढ़ होली मिलन समारोह के दौरान कही। इस दौरान जहां उन्होंने योगी सरकार की योजनाओं की तारीफ की वहीँ मायावती-अखिलेश यादव के गठबंधन पर निशाना भी साधा। उन्होंने कहा किइस गठबंधन से सिर्फ नुकसान ही पहुँच सकता है किसी का भला नहीं हो सकता इसलिए इससे सावधान रहें हैं।

इस दौरान उप मुख्यमंत्री 3677 लाख की 26 परियोजनाओं का शिलान्यास और 15 परियोजनाओं का लोकार्पण भी किया। उन्होंने कहा कि जो चार साल का काम पूछे उससे पिछले 60 वर्षों का हिसाब मांग लेना और जब कोई यूपी सरकार का एक वर्ष का हिसाब मांगे तो उससे 15 वर्षों का लेखा जोखा मांग लेना। कानून व्यवस्था पर विपक्षी दलों की सरकारों पर कटाक्ष करते हुए कहा कि पहले पुलिस अपराधियों से डरती थी, आज अपराधी पुलिस से खौफ खाते हैं। गुंडा माफिया कानून के खौफ से कांप  रहा है।

आपको बता दें कि खराब मौसम की वजह से केशव प्रसाद मौर्या का हेलीकॉप्टर इंदिरा गांधी राष्ट्रीय उड़ान अकादमी (इग्रुआ) फुरसतगंज में उतारना पड़ा। इस बात कि जानकारी मिलते ही मौके पर अमेठी के एएसपी व प्रशासनिक अधिकारी पहुंचे और डिप्टी सीएम को कार से लखनऊ रवाना कर दिया।

Related Articles