IPL
IPL

Night party में जाने से पहले रखे ध्यान, चाल गड़बड़ाई तो कटेगा चालान

गुजरात ( Gujarat ) में इस बार साल के अंतिम दिन आज 31 दिसंबर देर रात तक होने वाली नाईट पार्टियां सम्भव नहीं होंगी।

अहमदाबाद: गुजरात ( Gujarat ) में इस बार साल के अंतिम दिन आज 31 दिसंबर देर रात तक होने वाली नाईट पार्टियां सम्भव नहीं होंगी। पुलिस ( Police ) शराब पीने वालों की आवाज़ और चाल के आधार पर धरपकड़ कर आगे की जांच कराएगी। हालांकि कोरोना ( COVID-19 ) के कारण ऐसे मामलों में सामान्य तौर पर सांस के ज़रिए किये जाने वाले ब्रेथ एनालाइज़र टेस्ट का इस्तेमाल नहीं किया जाएगा।

वरिष्ठ पुलिस अधिकारी ( SSP ) ने बताया कि चार महानगरों में रात 9 बजे से सुबह 6 बजे तक रात्रि कर्फ़्यू ( Night curfew ) के कारण लोगों अथवा क्लब आदि को सार्वजनिक पार्टी की अनुमति नहीं दी गयी है। गाड़ियां चलाने वालों की जांच की जाएगी। जिस पर भी शराब पीने का संदेह होगा उसे चला कर और उसकी बोली के आधार पर जांच करेगी। अगर किसी को नशे में पाया गया तो उसकी रक्त की जांच होगी। इसमें अल्कोहल पाए जाने पर शराबबंदी क़ानून के तहत कार्रवाई की जाएगी और चालान काटा जायेगा।

ये भी पढ़ें : बस बदलने का झंझट खत्म, अब Noida से सीधे पहुंचेंगे पटना

ज्ञातव्य है कि गुजरात में पूर्ण शराबबंदी है और इस वजह से हर साल 31 दिसंबर की रात को बड़े पैमाने पर शराबियों पर कार्रवाई होती है। कोरोना पर रोकथाम के लिए गत नवंबर माह से ही राज्य के चार प्रमुख नगरों अहमदाबाद ( Ahmedabad ), सूरत ( Surat ) , राजकोट ( Rajkot ) और वडोदरा ( Vadodara ) में रात नौ बजे से सुबह छह बजे तक रात्रि कर्फ़्यू जारी है। इसे एक जनवरी से रात दस से सुबह 6 बजे तक किया जाएगा।

Related Articles

Back to top button