दिल्ली में हुआ एशियाई खेलों के लिए मशाल रैली का आगाज, कई एथलीट ने लिया हिस्सा

नई दिल्ली| इंडोनेशिया के जकार्ता में होने वाले 18वें एशियाई खेलों के लिए मशाल रैली का आगाज रविवार को राजधानी दिल्ली से किया गया। इस रैली में 31 एथलीट शामिल थे, जिसमें इंडोनेशिया की दिग्गज बैडमिंटन खिलाड़ी रहीं सुसी सुसांति भी शामिल थीं। वह अपने देश से मशाल एम्बेसेडर रहीं।

जकार्ता में 18 अगस्त से एशियाई खेलों का आगाज हो रहा है, जो दो सितम्बर तक जारी रहेगी। ऐसे में राजधानी दिल्ली में मशाल रैली के समारोह के मौके पर भारतीय ओलम्पिक महासंघ (आईओए) के महासचिव राजीव मेहता और अध्यक्ष नरिंदर ध्रुव बत्रा मौजूद थे।

इसके अलावा इस समारोह में भारतीय खेल प्राधिकरण महानिदेशक नीलम कपूर, खेल सचिव राहुल भटनागर, ओसीए के ऑनरी लाइफ वाइस प्रेसिडेंट वेई जिजहोंग और राजा रणधीर सिंह तथा इंडोनेशिया की एशियाई खेलों की समिति के चेयरमैन एरिक थोहिर भी मौजूद थे।

मशाल को प्रज्जवलित करने के बाद सुसी को थमाई गई। सुसी ने इस मशाल को पांच बार की विश्व मुक्केबाजी चैम्पियन मैरी कॉम को सौंपी। इसके बाद, यह मशाल भारतीय पुरुष हॉकी टीम के कप्तान पीआर श्रीजेश, निशानेबाज जीतू राय, मुक्केबाज सरीता देवी, तीरंदाज जयंता तालुकदार, टेबल टेनिस खिलाड़ी शरथ कमल, हॉकी खिलाड़ी सरदार सिंह, एसवी सुनील, कबड्डी खिलाड़ी अनूप कुमार, अजय ठाकुर और अन्य एथलीटों के पास गई।

इस मौके पर मेहता ने कहा, “एशियाई खेलों की मशाल रैली का मेजबान होना आईओए के लिए बड़े सम्मान की बात है। यह खेल एशिया में खेल भावना का प्रदर्शन करते हैं। ऐसे में इन्हें दो शहरों में आयोजित करना एक प्रकार का संतुलन प्रदान कर रहा है।”

Related Articles