Hockey World Cup 2018: ऑस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को हराकर कांस्य पदक किया अपना नाम

नई दिल्ली। मौजूदा विजेता आस्ट्रेलिया टीम भले ही अपना खिताब बचा पाने में नाकाम रही हो, लेकिन रविवार को ओडिशा हॉकी विश्व कप टूर्नामेंट में खेले गए मैच में उसने कांस्य पदक अपने नाम किया। कलिंगा स्टेडियम में आस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड को 8-1 से मात दी। इस हार के कारण इंग्लैंड लगातार तीसरी बार कांस्य पदक हासिल करने से चूक गई।

ब्लेक गोवर्स ने आठवें मिनट में पहला गोल कर आस्ट्रेलिया का खाता खोला। इस टूर्नामेंट में आस्ट्रेलिया के लिए गोवर्स का यह सातवां गोल था। इसके अगले ही मिनट में टॉम क्रेग ने फील्ड गोल करते हुए आस्ट्रेलिया को 2-0 की बढ़त दे दी। दूसरे क्वार्टर में भी क्रेग ने अच्छा प्रदर्शन किया और 19वें मिनट में गोल करते हुए टीम को 3-0 से आगे किया।

कांस्य पदक के लिए पहले हाफ के समापन तक मौजूदा विजेता आस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड के खिलाफ 3-0 की बढ़त बना ली। दूसरे हाफ में भी आस्ट्रेलिया ने इंग्लैंड के खिलाफ अपना आक्रामक खेल बरकरार रखा था। ऐसे में 33वें मिनट में ट्रैंट मिटन ने आस्ट्रेलिया के लिए चौथा गोल किया। यह इस टूर्नामेंट में टीम के लिए किया गया उनका पहला गोल था। इसके अगले ही मिनट में आस्ट्रेलिया ने दो और गोल कर अपनी बढ़त 6-0 कर दी। टीम के लिए ये दो गोल मिटन और क्रेग ने किए। क्रेग ने इसके साथ ही इस मैच में अपनी हैट्रिक भी पूरी की।

इंग्लैंड को आखिरकार खाता खोलने का अवसर मिला और उसने बैरी मिडलटन की ओर से 45वें मिनट में किए गए गोल के दम पर आस्ट्रेलिया के खिलाफ स्कोर 1-6 किया। वर्ल्ड नम्बर-1 आस्ट्रेलिया की कोशिश अब इंग्लैंड को रोके रखने की थी, ताकि वह अंत में जीत हासिल कर कांस्य पदक पर कब्जा जमा सके। इस क्रम में उसने आखिरी मिनट में मिले दो पेनाल्टी कॉर्नर पर जेज हेवर्ड की ओर से किए गए दो गोल के साथ इंग्लैंड को 8-1 से हराकर कांस्य पदक अपने नाम किया।

Related Articles