पुलिस के शिकंजे में ऑटो लिफ्टर गैंग, इनके कारनामे जान कर होंगे हैरान

लखनऊ: राजधानी लखनऊ समेत अन्य जनपदों से दो पहिया वाहनों को चुराकर कर नेपाल पहुंचाने वाले ऑटो लिफ्टर गैंग के चार लोगों को लखनऊ की क्राइम ब्रांच व चौक पुलिस ने गिरफ्तार करने में सफलता हासिल की है। पकड़े गए यह आरोपी देर रात शाहमीना शाह के पास गाड़ी चोरी करने की फिराक में थे। इसी बीच क्राइम ब्रांच टीम ने चौक पुलिस के साथ घेराबंदी कर धर दबोचा है। पुलिस ने इनके पास से एक मोटरसाइकिल व 32 हजार की नकदी बरामद की है।

पूरा मामला

जानकारी के मुताबिक, अहमदाबाद के रहने वाले अजरुद्दीन अपने साथियों के साथ लखनऊ में मेडिकल कॉलेज व वाले संस्थानों के बाहर खड़ी गाड़ियों को चुराया करते थे। पुलिस की आंखों में धूल झोंकने के लिए रात के अंधेरे में लखनऊ से बाहर निकल जाया करते थे, जिसके बाद ही अपने नेपाल के रहने वाले साथियों के साथ मिलकर इन गाड़ियों को नेपाल पहुंचाकर बेच दिया करते थे।

यह शातिर ऑटो लिफ्टर गैंग स्पोर्ट्स बाइक व बुलेट जैसी महंगी गाड़ियों को अपना निशाना बनाते थे। पुलिस द्वारा बताया गया है कि अभी हाल ही के दिनों में मेडिकल कॉलेज से मोटरसाइकिल चोरी होने की अधिक सूचनाएं मिल रही थी। जिसको लेकर पुलिस ने रात के अंधेरे में इस गैंग द्वारा फरार होने वाले एक साथी को गिरफ्तार किया था, जिसके बाद ही इस गिरोह की जानकारी लगी थी।

गिरफ्तार लोगो की पहचान

इंस्पेक्टर चौक विश्वजीत सिंह की मानें तो लखनऊ समेत अन्य जनपदों से महंगी गाड़ियों को चुराकर नेपाल में बेचने वाले ऑटो लिफ्टर गैंग के चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है। उन्होंने कहा पकड़े गए आरोपियों की पहचान अजरुद्दीन, दिल्लू, नईम अंसारी व विनोद क्षत्री के रूप में हुई हैं।

नकदी बरामद

आरोपियों के पास से एक मोटरसाइकिल समेत 32 हजार रुपये की नकदी बरामद की गई है। वहीं आरोपियों ने पूछताछ में बताया कि यह गिरोह को शोएब नामक युवक ने बताया था कि लखनऊ में मोटरसाइकिल की चोरी बड़े ही आसान तरीके से कर बाहर निकाला जा सकता है। इसी के बाद से ही यह गिरोह लखनऊ केवल मोटरसाइकिल चुराने आया करते थे। फिलहाल पुलिस गिरोह के अन्य साथियों की तलाश में जुटी हुई है।

Related Articles