Ayodhya: प्रभु श्रीराम के दर्शन करने आने वाले भक्त ले जा सकेंगे चरणरज, जानें कैसे मिलेगा

अयोध्या: प्रभु श्रीराम के दर्शन करने आने वाले भक्तों के लिए एक बेहद खुशखबरी वाली खबर सामने आयी है। जो भी श्रद्धालु राम लला के चरण की धूल घर ले जाने की इच्छा जताते हैं उनको Shri Ram Janam Bhoomi Teerth Shetra Trust रजकण उपलब्ध कराएगा। इसके लिए Trust ने बाकायदा छोटी-छोटी पैकिंग बना कर रखी है। इसे पाने के लिए हनुमान गढ़ी से आगे प्रभु श्री राम जन्मभूमि जाने वाले रास्ते पर स्थित राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट कार्यालय में रजकण के लिए संपर्क करना होगा।

बता दें कि श्रीराम जन्मभूमि मंदिर निर्माण का कार्य जारी है, नींव खोदकर उसकी मिट्टी सुरक्षित की जा रही है। राम जन्मभूमि तीर्थ क्षेत्र ट्रस्ट नींव की खुदाई से निकली मिट्टी को राम मंदिर की धरोहर के रूप में घर-घर पहुंचाने की योजना पर काम कर रहा है। रामलला का दर्शन करने आने वाले श्रद्धालुओं को पवित्र रजकण के तौर पर गर्भ गृह से निकली मिट्टी दी जाने की योजना बनाई जा रही है। इसके लिए मिट्टी को राम जन्मभूमि परिसर समेत अलग-अलग स्थानों पर सहेज कर रखा गया है।

निंदा लोगों के लिए की गई है पैकिंग की व्यवस्था

प्रभु श्रीराम भक्तों को चरणरज देने के लिए खास डिब्बे की पैकिंग बनायीं गयी है। Ayodhya दर्शन के लिए आने वाले श्रद्धालुओं को इसी डिब्बी में गर्भगृह की मिट्टी यानी चरणरज दी जाएगी। हालांकि अभी यह व्यवस्था कुछ चुनिंदा लोगों के लिए की गई है, बाकी आम भक्तों को चरणरज के लिए बर्तन खुद देना होगा।

Shri Ram Janam Bhoomi Teerth Shetra Trust के कार्यालय प्रभारी प्रकाश गुप्ता का कहना है कि ‘श्री राम मंदिर निर्माण के दौरान गर्भ गृह से निकली मिट्टी राम सेवक पुरम में रखी गई है। मठ मंदिरों के संतों व बाहर से आने वाले भक्तों ने राम मंदिर स्थल से मिले रजकण की मांग की है, जिसे छोटे-छोटे डिब्बे में पैक कर कारसेवक पुरम से वितरित किया जा रहा है।

ये भी पढ़ें : Corona काल में इस अस्पताल प्रशासन की बड़ी लापरवाही, जानकर हो जाएंगे हैरान

Related Articles