PM Modi द्वारा शुरू किया गया आयुष्मान भारत डिजिटल स्वस्थ्य मिशन

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (Prime Minister Narendra Modi) ने आज आयुष्मान भारत डिजिटल स्वस्थ्य मिशन लॉच कर दिया। मिशन को PM Modi ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग द्वारा उद्धघाटन किया। इस मिशन को सरकार ने ऐतिहासिक बताया है। इसकी मदद से डॉक्टर्स और मरीज अपने रिकार्ड्स चेक कर सकते है। इसमें अस्पताल-क्लीनिक-मेडिकल स्टोर्स का रजिस्ट्रेशन होगा।

PM Modi ने कहा कि अभी तक लोगों को किसी दूसरी जगह इलाज के लिए जाने पर अपना पूरा मेडिकल इतिहास ले जाना पड़ता है, लेकिन जब ऐसी सुविधाएं डिजिटली होंगी तब लोगों के साथ-साथ डॉक्टर्स को भी मदद मिलेगी।

Modi ने यह भी कहा की बीते सात वर्षों में देश की स्वास्थ्य सुविधाओं को मजबूत करने का जो अभियान चल रहा है, वो आज से एक नए चरण में प्रवेश कर रहा है। आज एक ऐसे मिशन की शुरुआत हो रही है, जिसमें भारत की स्वास्थ्य सुविधाओं में क्रांतिकारी परिवर्तन लाने की ताकत है। उन्होंने कहा की Aarogya setu App से कोरोना को फैलने से रोकने में मदद मिली है, इसके साथ ही भारत में सबको मुफ्त में वैक्सीन लग रही है अब तक देश में 90 करोड़ ज्यादा वैक्सीन लग चुकी है. और इसमें सबसे बड़ा रोल COWIN ने अदा किया है।

कैसे बनेगी हेल्थ ID

इस मिशन के तहत हर नागरिक के पास हेल्थ ID होगी। यह कार्ड पूरी तरह से डिजिटल होगा जो देखने में आधार कार्ड की तरह होगा। इस कार्ड पर आपको एक नंबर मिलेगा, जैसा नंबर आधार में होता है। इसी नंबर से स्वास्थ्य के क्षेत्र में व्यक्ति की पहचान होगी। यह हेल्थ ID कोई भी https://healthid.ndhm.gov.in/register पर खुद के रिकार्ड्स रजिस्टर करके बना सकता है। हेल्थ कार्ड बन जानें के बाद मरीज को डॉक्टर से दिखाने के लिए फाइल ले जाने की कोई जरुरत नहीं होगी डॉक्टर या अस्पताल रोगी की हेल्थ ID देखकर उसका पूरा डेटा निकालेंगे और सभी बातें जान सकेंगे।

यह भी पढ़ें: गन्ना समर्थन मूल्य वृद्धि को लेकर मायावती ने BJP पर निशाना साधा, कदम को बताया ‘स्वार्थी’

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles