आजम खान और उनकी बेगम के पास हैं 4 लायसेंसी हथियार, चुनावी हलफनामे में हुआ यह खुलासा

रामपुर: यूपी की रामपुर लोकसभा सीट से समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी आजम खान ने पर्चा भर दिया। चुनाव आयोग के समक्ष पेश आजम के हलफनामे में कई रोचक जानकारी सामने आई है। आजम और उनकी बेगम के पास हथियारों को कुल चार लायसेंस हैं। जानिए इसी बारे में –

आजम खान ने वित्तीय वर्ष 2017-18 के लिए अपनी आय 5.76 रुपए बताई है। जबकि 2016-17 में उनकी आय 16.27 लाख रुपए थी। वहीं उनकी बीवी डॉ. तंजीम फात्मा की आय 2017-18 में 18.94 लाख रुपए रही।

आजम खान के पास हथियारों के तीन लायसेंस हैं। इनमें .357 बोर की रिवॉल्वर शामिल है, जिसकी कीमत तीस हजार रुपए बताई गई है। इसी तरह 12 बोर की एक लायसेंसी बंदूक है, जिसकी कीमत 12 हजार है। 30/01 बोर की राइफल की कीमत 20 हजार रुपए है। वहीं आजम खान की बीवी के पास 30 हजार रुपए कीमत वाली रिवॉल्वर है, जिसकी कीमत 30 हजार रुपए है।

आजम खान और उनसे जुड़े तीन बैंक खाते हैं, जिनका बैलेंस क्रमशः 27.62 लाख,1.61 लाख और 9,866 रुपए है। वहीं उनकी पत्नी (या उनके जुड़े) के पांच बैंक खातों में क्रमशः 35.37 लाख, 5.30 लाख, 18.73 लाख, 46,635 और 1.61 लाख रुपए जमा हैं। आजम के पास 24,800 रुपए नकदी है, जबकि उनकी बेगम के हाथ में 17,600 रुपए कैश हैं।

जया प्रदा से है मुकाबला

रामपुर में आजम खान का मुकाबला जया प्रदा से है। जया पहले सपा में थीं और हाल ही में भाजपा में शामिल हुआ हैं। जया जब रामपुर से सांसद थीं, तब आजम यहां के विधायक रहे। उस समय दोनों के बीच तनातनी होती रहती थी। जया ने कई बार आजम पर आरोप लगाए कि वे उन्हें परेशान करते हैं। कांग्रेस ने यहां से संजय कपूर को टिकट दिया है।

रामपुर में 50 फीसदी से ज्यादा आबादी मुस्लिम है। 2014 लोकसभा चुनाव में यहां से भाजपा के नेपाल सिंह ने जीत दर्ज की थी। इससे पहले 1952 से 1971 तक हुए लोकसभा चुनाव में यहां कांग्रेस का दबदबा रहा। 1977 को छोड़ दें तो कांग्रेस यहां 10 बार जीत चुकी है। 1991 और 1998 में भाजपा जीती। 2004 और 2009 में समाजवादी पार्टी की तरफ से बॉलीवुड अभिनेत्री जयाप्रदा सांसद चुनी गई गईं। उसके बाद से यह क्षेत्र आजम खान का गढ़ माना जाता है।

Related Articles