जल निगम भर्ती घोटाले पर बोले आजम खान-नौकरी दी है कोई पाप नहीं किया

लखनऊ। सपा सरकार के दौरान जल निगम में नियमों को ताख पर रख कर हुई भर्तियों को लेकर एसआइटी ने दिग्गज नेता और पूर्व मंत्री आजम खान पर मुकदमा चलाने की सिफारिश की है। इस पर बोलते हुए आजम खान का कहना है कि उन्होंने कोई नियम नहीं तोड़े हैं और न कोई भ्रष्टाचार किया है। उनके उपर लगाये जा रहे सभी आरोप गलत हैं।

आजम खान

न्यूज 18 से बात करते हुए आजम खान ने कहा पूरे मामले में पैसे के लेन-देन की कोई शिकायत नहीं है। उन्होंने कहा मंत्री रहते हुए मैंने पढ़े लिखे बेरोजगारों को रोजगार दिया है कोई पाप नहीं किया है। इस दौरान उन्होंने पीएम मोदी पर हमला बोलते हुए कहा कि प्रधानमंत्री जी ने नौकरी देने का वादा किया था, लेकिन एक भी नौकरी नहीं दी। एक स्टेट के मंत्री ने पड़े लिखे बेरोजगारों को नौकरी दी है। कोई पाप नही किया है।

आजम ने कहा कि ये बच्चे हाईकोर्ट से भी मुकदमा जीते हैं। सुप्रीम कोर्ट ने भी अपील डिसमिस कर दी। आजम  ने कहा कि हमारी सरकार ने रोजगार दिया है, लिया नहीं है। बच्चों को रोजगार देने की जो भी सजा होगी भुगतेंगे। आजम ने सूबे की सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा कि यह सरकार रोजगारों से नौकरियां छीन कर उनके हाथों में भीख का कटोरा दे रही है। सरकार हर नियुक्ति को कोर्ट में चुनौती देकर बेरोजगारों के साथ मजाक कर रही है।

आपको बता दें कि एसआईटी ने जल निगम भर्ती घोटाले में उनके और तत्कालीन एमडी पीके आसुदानी पर कार्रवाई की सिफारिश कर दी है। अपनी जांच रिपोर्ट में एसआईटी ने पूर्व मंत्री और आसुदानी पर मुकदमा दर्ज कराने की अनुमति मांगी है। जांच के बाद तैयार रिपोर्ट में कहा गया है कि पूर्व मंत्री के खिलाफ कई सबूत पाए गए हैं। जांच टीम के मुखिया आलोक प्रसाद ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि उनपर महाभियोग चलाने के लिए काफी सबूत हैं। वहीँ प्रमुख सचिव अरविन्द कुमार का कहना है कि उनके पास अभी जांच रिपोर्ट नहीं आई है। रिपोर्ट मिलने के बाद ही आगे की कार्रवाई पर निर्णय लिया जाएगा।

Related Articles