Azam Khan पर फिर बढ़ी मुश्किले, कोर्ट ने जारी किया नोटिस

यूपी के लखनऊ में सीबीआई की एक विशेष अदालत ने पूर्व समाजवादी पार्टी के दौरान उत्तर प्रदेश जल निगम में भर्ती घोटाले के संबंध में आरोप पत्र में उल्लिखित अपराधों का संज्ञान लेते हुए शुक्रवार को पूर्व मंत्री मोहम्मद आजम खान को तलब किया।

लखनऊ: यूपी के लखनऊ में सीबीआई की एक विशेष अदालत ने पूर्व समाजवादी पार्टी के दौरान उत्तर प्रदेश जल निगम में भर्ती घोटाले के संबंध में आरोप पत्र में उल्लिखित अपराधों का संज्ञान लेते हुए शुक्रवार को पूर्व मंत्री मोहम्मद आजम खान (Azam Khan) को तलब किया। सरकार।

अदालत ने मामले के अन्य आरोपियों गिरीश चंद्र श्रीवास्तव, नीरज मलिक, विश्वजीत सिंह, अजय यादव, संतोष रस्तोगी और कुलदीप नेगी को भी समन जारी किया है। मामले की जांच के लिए गठित विशेष जांच दल (SIT) ने 25 अप्रैल, 2018 को इंस्पेक्टर अटल बिहारी द्वारा एसआईटी पुलिस स्टेशन में दर्ज एक मामले के बाद जांच के बाद आरोप पत्र दायर किया था।

अखिलेश यादव के नेतृत्व वाली समाजवादी पार्टी सरकार में शहरी विकास मंत्री थे और यह आरोप लगाया गया था कि उत्तर प्रदेश जल निजाम में भर्तियों में मानदंडों का पालन नहीं किया गया था।

Azam Khan पर लगा ये आरोप

आपको बता दें, पूर्व मंत्री मोहम्मद आजम खान पर ये आरोप लगे हैं। उनपर आरोप लगा है, मनचाही भर्तियां करवाने के लिए आपराधिक साजिश के तहत एपटेक का चयन। इसके बाद आजम खान के उपर दूसरा आरोप है भर्ती के लिए एपटेक और जल निगम के बीच हुए अनुबंध का उल्लंघन। तीसरा आरोप है  परीक्षा खत्म होने के बाद ऑनलाइन आंसर-की जारी न किए जाने के बावजूद भर्ती प्रक्रिया चलती रही।

यह भी पढ़ें:  Acharya Swami Vivekananda : क्या आपके जीवन में धन की वर्षा होगी आने वाला कल?

यह भी पढ़ें:  सबरीमाला मंदिर 21 जुलाई तक श्रद्धालुओं के लिए खुला, इन शर्तों के साथ मिलेगी एंट्री

Related Articles