बाबा का ढाबा के मालिक Kanta Prasad ने की आत्महत्या की कोशिश, अस्पताल में भर्ती

DCP अतुल ठाकुर ने बयान में बताया कि बाबा का ढाबा के मालिक 80 वर्षीय कांता प्रसाद को कल रात सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था, शराब और नींद की गोलियां खाने के बाद वह बेहोश हो गए थे

नई दिल्ली: बाबा का ढाबा (Baba Ka Dhaba) के मालिक कांता प्रसाद (Kanta Prasad) ने गुरूवार की रात को आत्महत्या करने की कोशिश की है। जानकारी के मुताबिक कांता प्रसाद ने नींद की गोलियां खाईं थी। जिसके बाद उन्हें सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया है।

DCP अतुल ठाकुर ने बयान में बताया कि बाबा का ढाबा के मालिक 80 वर्षीय कांता प्रसाद को कल रात सफदरजंग अस्पताल में भर्ती कराया गया था। शराब और नींद की गोलियां खाने के बाद वह बेहोश हो गए थे। इसके लिए उनके बेटे का बयान दर्ज किया गया है। जांच चल रही है।

कांता प्रसाद दक्षिणी दिल्ली के मालवीय नगर इलाके में एक सड़क के किनारे में अपना ढाबा चलाते हैं। पुलिस ने बताया कि गुरुवार रात PCR को कॉल आई कि किसी ने आत्महत्या करने की कोशिश की है। पुलिस जब मौके पर पहुंची तो देखा कि कांता प्रसाद है। कांता प्रसाद की पत्नी बादामा देवी ने पुलिस को बताया कि उनके पति पिछले कुछ दिनों से तनाव में थे।

 

लॉकडाउन लगने के बाद बाबा का ढाबा ठीक से नहीं चल पा रहा था जिसके बाद एक फूड ब्लॉगर गौरव ने कांता प्रसाद के ढाबे का एक वीडियो बनाकर सोशल मीडिया पर अपलोड कर दिया। जिसके बाद यह वीडियो वायरल हुआ और बाबा का ढाबा मशहूर हो गया काफी कमाई भी हुई। उसके कुछ दिनों बाद कांता प्रसाद ने फूड ब्लॉगर गौरव पर धोखाधड़ी का आरोप लगा दिया, खैर बाद में उन्होंने इसकी माफी भी मांग ली।

किराए पर रेस्टोरेंट

कांता प्रसाद ने कमाई होने के बाद एक किराए पर रेस्टोरेंट लिया, लेकिन वह ज्यादा दिन चल नहीं सका। वहां पर ठीक से कमाई नहीं होती थी। फिर बाबा ने वापिस से सड़क किनारे अपना ढाबा फिर से खोल लिया। फूड ब्लॉगर गौरव ने बाबा से मिलकर उन्हें सांत्वना भी दी थी बाबा के आंखों से आंसू छलक पड़े थे।

यह भी पढ़ेकोविड-19 फ्रंटलाइन वर्कर्स के लिए प्रशिक्षण कार्यक्रम का शुभारंभ, मिलेगा रोजगार

Related Articles