सेना के पराक्रम पर ओछी राजनीति न करें : बाबा रामदेव

0

मथुरा। मथुरा के महावन स्थित कार्ष्णि गुरु शरणानंद महाराज रमणरेती आश्रम में गोपाल दास महाराज की जयंती पर गुरुवार से तीन दिवसीय संत समागम शुरू हो गया है। समागम के पहले दिन योगगुरु बाबा रामदेव समेत सैकड़ों साधु-संतों ने हिस्सा लिया।

इस मौके पर पत्रकारों से वार्ता करते हुए बाबा रामदेव ने उन नेताओं को नसीहत दी है, जो बालाकोट में भारतीय वायुसेना की एयर स्ट्राइक में मारे गए आतंकियों का सबूत मांग रहे हैं। उन्होंने कहा कि सेना के पराक्रम पर ओछी राजनीति नहीं करनी चाहिए।

मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार रामदेव ने कहा कि सेना ने आतंकी ठिकानों पर हमले के सबूत भी दे दिए हैं। मौके पर 300 मोबाइल एक्टिव थे। अब सोचने की बात है कि मोबाइल से न तो पेड़ पौधे बात करते हैं और न ही जानवर। वहां आतंकी थे और भारतीय सेना ने आतंकियों के ठिकानों को ही ध्वस्त किया।

उन्होंने कहा कि अब इस विषय पर किसी राजनीति दल को ओछी राजनीति नहीं करना चाहिए। भारतीय सेना के शौर्य और गौरव को बढ़ाने का काम करना चाहिए। उन्होंने कहा कि जब सभी लोग मिलकर आतंकवाद और देश विरोधी ताकतों से लड़ेंगे, तभी शुभ होगा।

loading...
शेयर करें