वोटो की बोली लगाने वाले नेताओ से रहना होगा बहुजन समाज को सावधान

लक्ष्य की कानपुर टीम ने बहुजन जनजागरूकता अभियान के तहत एक रात्रि कैडर कैम्प का आयोजन कानपुर देहात के पुखरायां में स्थित डॉ अम्बेडकर ध्यान केंद्र में किया

कानपुर: लक्ष्य की कानपुर टीम ने बहुजन जन जागरूकता अभियान के तहत एक रात्रि कैडर कैम्प का आयोजन कानपुर देहात के पुखरायां में स्थित डॉ अम्बेडकर ध्यान केंद्र में किया जिसमें लक्ष्य की महिला कमांडरों को सुनने के लिए गांव के लोग विशेषतौर से महिलाऐं भारी संख्या में उमड़ी। लक्ष्य के कैडर कैम्पों में लक्ष्य कमांडरों को सुनने के लिए बहुजन समाज के लोगों की उमड़ती भीड़, महिला कमांडरों की जोरदार उपस्थिति को दर्शाती है और इसके के लिए लक्ष्य की महिला कमांडर बहुजन समाज को जागरूक करने के लिए दिन-रात जुटी हुई है, यह उनके दिन-रात कड़ी मेहनत का ही परिणाम है।

जानें लक्ष्य संस्था ने क्या कहा ?

लक्ष्य संस्था ने कहा कि हमें दूसरों में कमी निकालने के बजाए, अपने अंदर झांकना होगा और मंथन करना होगा कि आखिर क्या कारण है कि हम लोग यानि कि बहुजन समाज के लोग हजारों वर्षों से मानवीय अधिकारों से वंचित है। इसमें कोई शक नहीं है कि यह कुछ मुट्ठी भर लोगों की एक सोची समझी साजिश है जो बहुजन समाज को गुलामी की ओर धकेलती है लेकिन इसके लिए हम लोग भी जिम्मेदार है और हमारे नेता इस व्यवस्था को बनाये रखने में अहम् भूमिका निभा रहे हैं। वे बहुजन समाज के लोगों के लिए कोई आवाज नहीं उठा रहे है बल्कि हमारे वोटों की बोली लगाते है।

कैसे मिलेगा बहुजन समाज के लोगों को अपनी स्थिति में बदलाव ?

अगर बहुजन समाज के लोगों को अपनी स्थिति में बदलाव चाहिए तो ऐसे स्वार्थी नेताओं से सावधान रहना होगा। यह बात लखनऊ से आईं लक्ष्य की महिला कमांडरों ने अपने सम्बोधन के दौरान कही। इस कैडर कैंप में लक्ष्य कमांडर रेखा आर्या, संघमित्रा गौतम, विजय लक्ष्मी गौतम,चेतना राव, राजकुमारी कौशल, रश्मि गौतम, लक्ष्मी गौतम,शिव कुमारी पाल,कंचन नैना, ज्योति गौतम, आशा रत्ना, कुलदीप बौद्ध,डा.ओ पी वर्मा,राहुल कुमार, अखिलेश गौतम, विनय प्रेम,डा.रवि शंकर गौतम, डा. जितेन्द्र कुमार गौतम, डा. पुष्पेंद्र गौतम,इंद्रराज गौतम,उदय प्रकाश संखवार,दर्शन सिंह गौतम, अरविंद सिंह बौद्ध,शैलेन्द्र राजवंशी आदि ने भाग लिया।

 

यह भी पढ़ें: कोयला संकट: महाराष्ट्र में बिजली कटौती नहीं होगी: अजित पवार

Related Articles