शोषण से मुक्ति के लिए बहुजन समाज को स्वयं ही खड़ा होना होगा : लक्ष्य

लखनऊ: काकोरी में लक्ष्य की लखनऊ टीम ने लक्ष्य युथ कमांडर रेखा कुमारी व लक्ष्य कमांडर रेखा आर्या के नेतृत्व में दिल्ली की गुड़िया को लेकर ” बहुजन समाज की बेटियों का उत्पीड़न व उसका निवारण” विषय पर एक सामाजिक चर्चा व कैंडल मार्च का आयोजन लखनऊ के काकोरी के गांव सिकरोरी में किया जिसमें गांव के लोगों ने बढ़चढ़कर हिस्सा लिया।

बहुजन समाज को अपनी समस्याओं के लिए स्वयं ही खड़ा होना होगा अर्थात् ईमानदारी के साथ निरन्तर संघर्ष करना होगा। अपने परिवार के साथ साथ समाज को भी प्राथमिकता देनी होगी अर्थात् परिवार की खुशहाली के लिए समाज को परिवार से ज्यादा प्राथमिकता देनी होगी। जिस समाज के लोग अपने परिवार से ज्यादा समाज को प्राथमिकता देते है उस समाज के लोग खुशाल होते है। यह बात लक्ष्य कमांडरों ने अपने सम्बोधन में कही।

उन्होने बहुजन समाज के लोगों से प्रश्न करतें हुए कहा कि क्या हम लोग इस सिद्धांत को मानते है,बिलकुल नहीं और परिणाम हम सब के सामने है। हम अपनी सामाजिक व आर्थिक स्थिति को अच्छे से जानते है। हम लोग विशेषतौर से हमारी महिलाये, बच्चियां सुरक्षित नहीं है। उन्होंने इस अवसर पर दिल्ली की गुड़िया की घटना को भी जोर शोर से उठाया और इस चर्चा के बाद गांव में एक कैंडल मार्च निकाली तथा गुड़िया को न्याय दिलाने के लिए जोशीले नारे लगाए।

इस कार्यक्रम में लक्ष्य कमांडर रेखा आर्या, रेखा कुमारी, विमलेश चौधरी, सुमन बौद्ध व लक्ष्य युथ कमांडर विनय प्रेम, ऋषभ, राहुल कुमार, शैलेन्द्र आर्या, कुलदीप बौद्ध,रवि चौधरी ने हिस्सा लिया।

Related Articles