काबुल में चल रही थी बक़रीद की नमाज़, बरस रहे थे मौत के रॉकेट, देखें कैसे बचें राष्ट्रपति

काबुल: अफगानिस्‍तान (Afghanistan) में चल रहे सबसे युद्ध की चिंगारी अब राजधानी काबुल में स्थित अफगान राष्‍ट्रपति (Afghan president) के निवास तक पहुंच गई है। ईद उल अजहा (बकरीद) के मौके पर अफगानिस्तान (Afghanistan) के राष्ट्रपति भवन (President House) को रॉकेट से निशाना बनाया गया। राष्‍ट्रपति भवन में आज मंगलवार सुबह करीब आठ बजे बकरीद के की नमाज चल रही थी, तभी एक के बाद एक रॉकेट की बरसात होने लगी। जब रॉकेट हो रहा था तब भी लोग नमाज पढ़ते रहे। इस घटना का एक वीडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। अल जजीरा की रिपोर्ट के मुताबिक इस हमले में अभी तक किसी के घायल होने की सूचना नहीं है। माना जा रहा है कि यह हमला तालिबान (Taliban) की ओर से किया गया है जो अब काबुल के काफी नजदीक तक पहुंच गए हैं।

राष्ट्रपति ने जारी रखी नमाज

वायरल वीडियो में देख सकते है कि राष्‍ट्रपति भवन के पास सुबह आठ बजे जब रॉकेट से हमले और धमाके हो रहे थे उस दौरान भी राष्ट्रपति अशरफ व उनके साथ के सभी लोग अपनी नमाज पढ़ना जारी रखे। राष्ट्रपति भवन के आस-पास का इलाका ग्रीन जोन में स्थित है और यहां अमेरिका सहित कई देशों के दूतावास स्थित हैं। नमाज पढ़ने के बाद राष्ट्रपति घनि ने अपना भाषण दिया। मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक राष्ट्रपति भवन के पास एक के बाद एक तीन रॉकेट गिरे। रॉकेट विस्फोट की आवाज दूर तक सुनाई पड़ी।

शहर के कई इलाको में रॉकेट धमाका

गृह मंत्रालय के प्रवक्ता मीरवाइज स्तनेकजई ने मीडिया को बताया कि, ‘आज बकरीद त्यौहार के मौके पर अफगानिस्तान के दुश्मनों ने काबुल शहर के कई हिस्सों में रॉकेट से हमला किया है। ये तीनों रॉकेट अलग-अलग हिस्सों में गिरे। अभी जो शुरुआती जांच रिपोर्ट मिली है उसके मुताबिक किसी को कोई नुकसान नहीं पहुंचा है।’ यह पहली बार नहीं है जब अफगानिस्तान के राष्ट्रपति भवन को निशाना बनाया गया है। इसके पहले भी इसे निशाना बनाते हुए हमले हो चुके हैं।

Related Articles