IPL
IPL

अगले आदेश तक बच्चों को School बुलाने पर लगी रोक, सरकार ने बुलाई आपात बैठक

नई दिल्ली : दिल्ली में लगातार बढ़ते कोरोना संक्रमण को लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पिछले कुछ दिनों से बेहद गंभीर है। अरविंद केजरीवाल इस मामले पर खुद नजर बनाए हुए है और इसी को ध्यान में रखते हुए बच्चों की सुरक्षा के लिए स्कूलों को लेकर बड़ा फैसला लिया है। सरकार ने साफ कह दिया है कि अगले आदेश तक दिल्ली में शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए 8वीं कक्षा तक के छात्रों को स्कूल (School) बुलाने पर रोक लगा दी गई है। स्कूल (School) बंद के दौरान बच्चों की पढाई न रुके इसके लिए ऑनलाइन क्लास चलती रहेंगी।

सभी स्कूलों में लागू होंगे ये आदेश

शैक्षणिक सत्र 2020-21 के लिए 9वीं से 12वीं कक्षा के छात्रों को उनके पेरेंट्स की अनुमति पर ही मिड टर्म/ प्री बोर्ड/एनुअल एग्जाम/ बोर्ड एग्जाम/ प्रैक्टिकल एग्जाम/ प्रोजेक्ट वर्क/ इंटरनल एसेसमेंट के लिए स्कूल में बुलाया जायेगा। दिल्ली सरकार ने ये जो भी आदेश जारी किये है ये दिल्ली में सभी तरह के स्कूलों पर लागू होगा। दिल्ली के डिप्टी सीएम और शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने गंभीर मामले को देखते हुए दिल्ली बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन की मीटिंग आयोजित की गई।

ये भी पढ़ें : प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने राजनीति से संन्यास लेने का किया फैसला!

सीएम ने बुलाई आपात बैठक

इस मीटिंग में मनीष सिसोदिया ने कहा यहां पर हमारे सभी बच्चों के लिए उच्च गुणवत्ता की शिक्षा सुनिश्चित करने की दिशा में दिल्ली बोर्ड फॉर स्कूल एजुकेशन (DBSE) एक महत्वपूर्ण कदम है। पिछले 6 सालो में भारत के सरकारी स्कूलों की धारणा को हमारे काम ने बदल दिया। अगली पीढ़ी के शिक्षा सुधार मूल्यांकन में सुधारों पर निर्भर करते हैं। मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल इस कोरोना के बढ़ते संक्रमण को ध्यान में रखते हुए शुक्रवार को एक आपात बैठक बुलाई है। अरविंद केजरीवाल की यह बैठक शुक्रवार शाम 4 बजे मुख्यमंत्री आवास पर होगी। इस बैठक में दिल्ली में बढ़ते कोरोना केस की रोकथाम के लिए एक्शन प्लान, वैक्सीनेशन की मौजूदा स्थिति, कंटेनमेंट जोन, अस्पतालों के बेड़ प्रबंधन और सिरो सर्वे के साथ वर्तमान में कोरोना मामले की मैपिंग की समीक्षा करेंगे।

ये भी पढ़ें : भूलकर भी न रखें इन जगहों पर Tulsi का पौधा, जानिए इसे रखने का सही जगह

Related Articles

Back to top button