राष्ट्रपति के फैसले पर रोक, अब सेना में भी होगी किन्नरों की भर्ती

0

वाशिंगटन। अमेरिका के एक संघीय न्यायाधीश ने सेना में किन्नरों की भर्ती प्रतिबंधित करने के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रयास पर अस्थायी रोक लगा दी है। बता दें इससे पहले अमेरिका में व्हाइट हाउस की प्रेस सचिव साराह सैंडर्स ने कहा था कि राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के किन्नरों को अमेरिकी सेना में सेवा देने से प्रतिबंधित करने का फैसला सेना का निर्णय है और व्हाइट हाउस पेंटागन के साथ मिलकर इस बात पर निर्णय करेगी कि किस प्रकार इस योजना को अमल में लाया जायगा। जिसके बाद इस फैसले पर रोक लगा दी गई है।

ओबामा प्रशासन की नीति में बदलाव की बात कही गई थी

बीबीसी ने सोमवार को बताया कि जिला न्यायाधीश कोलीन कोलर-कोटेली ने ट्रंप द्वारा जारी उस ज्ञापन को खारिज कर दिया, जिसमें ओबामा प्रशासन की नीति में बदलाव की बात कही गई थी। यह मामला अगस्त में अनाम याचिकाकर्ताओं द्वारा दायर किया गया था।

सेना ने भी इसे खारिज कर दिया था

न्यायाधीश याचिकाकर्ताओं के इस बात से सहमत हुईं कि राष्ट्रति के निर्देश वास्तव में सेना पर संभावित प्रभाव या बजट की समस्या पर आधारित नहीं थे, बल्कि किन्नरों को स्वीकार नहीं करने की इच्छा से प्रेरित थे। उन्होंने आगे कहा कि जुलाई में किन्नरों पर प्रतिबंध लगाने के राष्ट्रपति के निर्देश किसी भी लिहाज से समर्थनयोग्य नहीं मालूम पड़ते हैं और सेना ने भी इसे खारिज कर दिया था।

loading...
शेयर करें