इंदौर में चूड़ी विक्रेता की पिटाई, महिलाओं को प्रताड़ित करने का मामला दर्ज

भीड़ द्वारा एक व्यक्ति की पीट-पीट कर हत्या करने की घटना सोशल मीडिया पर वायरल हो गई जिसके बाद पुलिस ने मामले की जांच करने में जुट गई।

इंदौर: इंदौर पुलिस ने सोमवार को शहर में भीड़ द्वारा पीट-पीट कर मार डालने वाले चूड़ी विक्रेता तसलीम अली के खिलाफ उत्पीड़न के आरोप में मामला दर्ज किया है। भीड़ द्वारा एक व्यक्ति की पीट-पीट कर हत्या करने की घटना सोशल मीडिया पर वायरल हो गई जिसके बाद पुलिस मामले की जांच करने में जुट गई।

चूड़ी बेचने के बहाने महिलाओं को प्रताड़ित करने के आरोप में भीड़ ने चूड़ी बेचने वाले की पिटाई कर दी। पुलिस ने तसलीम के खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 354, 354 (ए), 420, 467, 468 और 471 और पॉक्सो की विभिन्न धाराओं के तहत मामला दर्ज किया है।

इंदौर के पुलिस अधीक्षक आशुतोष बागरी ने कहा, “चूड़ी बेचने वाले के पास दो आधार कार्ड थे – जिसमें तस्लीम पुत्र मोहर अली और असलम पुत्र मोर सिंह का नाम था। उसके पास एक आधा जला हुआ मतदाता पहचान पत्र भी था।” पुलिस ने चूड़ी विक्रेता के साथ मारपीट करने के मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ लूट व मारपीट की संबंधित धारा में मामला दर्ज कर लिया है।

वीडियो वायरल होने के बाद बागरी ने कहा, ”वायरल वीडियो में बाणगंगा थाना क्षेत्र में एक चूड़ी विक्रेता की पिटाई की गई और उसके खिलाफ आपत्तिजनक भाषा का इस्तेमाल किया गया। वीडियो के जरिए आरोपियों की पहचान की जा रही है और उनके खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी।”

गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने की टिप्पणी

आपको बता दें कि मध्य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा, “इसे सांप्रदायिक रंग नहीं दिया जाना चाहिए। अगर कोई आदमी अपना नाम, जाति और धर्म छुपाता है तो कड़वाहट आती है। हमारी बेटियां सावन के दौरान चूड़ियां पहनती हैं और मेंहदी लगाती हैं। वह आया था एक चूड़ी वि क्रेता, भ्रम की स्थिति थी और उसकी आईडी देखकर सच्चाई सामने आ गई।”

यह भी पढ़ें: जम्मू-कश्मीर: बारामूला के सोपोर में मुठभेड़ में मारा गया आतंकवादी

(Puridunia हिन्दीअंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप डाउनलोड के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुकट्विटरइंस्टाग्राम और यूट्यूब पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles