बैंक कर्मचारियों का हल्लाबोल, एक लाख से अधिक बैंकी की ब्रांचों पर लटका ताला, जानें क्या है वजह

बैंकों के निजीकरण के खिलाफ कर्मचारियों ने प्रदर्शन किया

बैंकों के निजीकरण को लेकर राष्ट्रव्यापी हड़ताल अभियान के तहत लखनऊ सहित पूरे यूपी में आज बैंक बंद रहे. जानकारी के लिए बता दें बैंक यूनियन ने 16 और 17 दिसंबर को हड़ताल का ऐलान किया है. इसके साथ ही इस पूरे हफ्ते बैंक नहीं खुलेगा. दरअसल 18 दिसंबर को महीने का दूसरा शनिवार और 19 दिसंबर को रविवार का दिन है. ऐसे में अब सीधे इस हफ्ते के बाद ही बैंक खुलने के आसार हैं.

सरकार विधेयक लाने की तैयारी में

यूनाइटेड फोरम आफ बैंक यूनियंस के आह्वान पर सार्वजनिक क्षेत्र के सभी बैंक कर्मचारी हड़ताल पर चले गए हैं. ये कर्मचारी सरकार के निजीकरण के फैसले का विरोध जता रहे हैं. दरअसल, इस सत्र में सरकार एक विधेयक लाने की तैयारी में है, जिससे बैंकों के शेयर को बेचा जा सकता है.

‘Strike For Public’ किया ट्रेंड

वहीं बैंक हड़ताल को लेकर सोशल मीडिया पर ‘Strike For Public’ और ‘बैंक बचाओ देश बचाओ’ का हैशटैग ट्रेंड कर रहा है. बैंक कर्मी इस हैशटैग के जरिए लोगों से समर्थन देने की अपील कर रहे हैं. वहीं एसबीआई ने कर्मचारियों से अपील की है कि हड़ताल पर न जाएं और काम अनवरत जारी रखें. पीएनबी और सेंट्र्ल बैंक ने भी अपने कर्मचारियों से स्ट्राइक पर नहीं जाने की अपील की है.

यह भी पढ़ें- PD Exclusive: उम्रकैद की सजा काट रहा ‘कलुआ’ बन्दर, वजह जानकर आप भी हो जाएंगे हैरान

(Puridunia हिन्दी, अंग्रेज़ी के एंड्रॉएड ऐप के लिए आप यहां क्लिक कर सकते हैं. आप हमें फ़ेसबुक, ट्विटर, इंस्टाग्राम और यूट्यूब  पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं)…

Related Articles