SREI ग्रुप के रिजॉल्यूशन के लिए आरबीआइ के पास पहुंचे बैंक्स

नई दिल्ली : फाइनेंशियल सेवा मुहैया कराने वाली कंपनी SREI ग्रुप के रिजॉल्यूशन के लिए यूको बैंक की अगुआई वाले लेंडर्स के एक कंसोर्सियम ने रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया से संपर्क किया है। बैंक चाहते हैं कि डीएचएफएल मामले की तरह ग्रुप का रिजॉल्यूशन हो।

DHFL के बाद SREI ग्रुप के रिजॉल्यूशन की जगी उम्मीद

ग्रुप के सबसे बड़े लेंडर्स में एक ने कहा, “दीवान हाउसिंग फाइनेंस लिमिटेड के रिजॉल्यूशन के बाद हमें उम्मीद जगी है। अगर एक इतनी बड़ी और जटिल फाइनेंशियल सर्विसेज कंपनी का एनसीएलटी के तहत रिजॉल्यूशन हो सकता है, तो फिर इस ग्रुप का क्यों नहीं?” इस कड़ी में एक बैंकर ने बताया, “आरबीआइ ने खुद कंपनी के खातों की जांच की थी। हमें पता है कि संभावित फ्रॉड का मामला निकल सकता है। ऐसे में सबसे अच्छा विकल्प यही होगा कि RBI इस मामले में एक एडमिनिस्ट्रेटर नियुक्त कर दे और फिर रिजॉल्यूशन के लिए एनसीएलटी के पास जाए। ”

इस कड़ी में एक रिपोर्ट के अनुसार इस ग्रुप पर बैंकों का करीब 36,000 करोड़ रुपये बकाया है। इनमें यूको बैंक के अलावा, स्टेट बैंक ऑफ इंडिया, बैंक ऑफ बड़ौदा, बैंक ऑफ इंडिया, इंडियन बैंक, पीएनबी, एक्सिस बैंक, केनरा बैंक और कुछ अन्य बैंक और लेंडर्स शामिल हैं।

यह भी पढ़ें : चीन ने ताइवान की सीमा में उड़ाए 38 लड़ाकू विमान

Related Articles