प्रतापगढ़ में बराक ओबामा पर दर्ज हुआ मुकदमा, राहुल-मनमोहन पर विवादित टिप्पणी करने का आरोप

ऑल इंडिया रूरल बार असोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ज्ञान प्रकाश शुक्ल ने लालगंज दिवानी कोर्ट में यह मुकदमा दर्ज कराया है। इस परिवाद की पहली सुनवाई 1 दिसंबर को होगी।

प्रतापगढ़: पूर्व अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा के खिलाफ उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ जिले में शिकायत दर्ज की गई है। प्रतापगढ़ के लालगंज दीवानी कोर्ट में बराक ओबामा के खिलाफ परिवाद दाखिल किया गया है।

ऑल इंडिया रूरल बार असोसिएशन के राष्ट्रीय अध्यक्ष ज्ञान प्रकाश शुक्ल ने लालगंज दिवानी कोर्ट में यह मुकदमा दर्ज कराया है। इस परिवाद की पहली सुनवाई 1 दिसंबर को होगी।

किसी प्रतिष्ठित व्यक्ति पर टिप्पणी निर्वाचन प्रणाली की अवहेलना

यह परिवाद बराक ओबामा पर उनके किताब के लिए किया गया है। ज्ञान प्रकाश शुक्ल ने शिकायत की है कि बराक ओबामा ने अपनी किताब में राहुल गांधी और मनमोहन सिंह के लिए विवादित टिप्पणी की है जो कि भारत की निर्वाचन प्रणाली की अवहेलना करता है।

बराक ओबामा की टिप्पणी देश के संविधान पर हमला

ज्ञान प्रकाश शुक्ल ने कहा कि इस तरह की टिप्पणी करके उन्होनें निर्वाचन आयोग जैसे नियामक संस्था के साथ भारत की संविधान की व्यवस्था पर भी सवाल खड़े किये हैं। किसी ऐसे व्यक्ति के खिलाफ अपमानजनक टिप्पणी करना जिसके लाखों समर्थक हैं, देश की संप्रभुता को कटघरे में खड़ा करना है।

देश में फैल सकती है आरजकता

ऐसा करके उन्होने लाखों समर्थकों की भावनाओं को आहत किया है। यदि इन नेताओं के समर्थक सड़कों पर आ गए तो देश में आरजकता फैल सकती है। ज्ञान प्रकाश शुक्ल ने इन बातों का हवाला देते हुए बराक ओबामा पर केस दर्ज करने की बात कही।

राहुल गांधी में नर्वस और परिपक्व छात्र के गुण

दरअसल बराक ओबामा ने अपनी आत्मकथा ‘ए प्रॉमिस्ड लैंड’ में राहुल गांधी और मनमोहन सिंह के साथ कुछ अन्य नेताओं का भी जिक्र किया है। इसमें बराक ओबामा ने भारत की चर्चा करते हुए राहुल गाधी के बारे में लिखा है कि वो एक नर्वस बच्चे की तरह हैं जो अपना होमवर्क पूरा करके टीचर को खुश करना चाहता है। राहुल गांधी के अन्दर किसी चीज की महारत हांसिल करने के लिए जुनून की कमी है।

अपनी किताब में मनमोहन सिंह का जिक्र करते हुए अमेरिका के पूर्व राष्ट्रपति ने लिखा कि मनमोहन सिंह में भावशून्य ईमानदारी है जो उन्हें सबसे अलग बनाती है। अपनी किताब में व्लादिमिर पुतिन को एक सख्त और स्मार्ट बॉस की तरह बताया है।

ये भी पढ़ें : बिहार शिक्षामंत्री के बचाव में उतरी Dy.CM रेणु देवी, बोलीं, ‘आरोप लगने से कोई दोषी नहीं बनता’

Related Articles

Back to top button