रिश्वत के आरोप में गिरफ्तार बारां के पूर्व कलेक्टर को भेजा जेल

न्यायालय के आदेश पर पूछताछ के लिए एक दिन की रिमांड़ समाप्त होने के बाद ब्यूरो टीम ने आज अवकाश होने के कारण न्यायधीश योगेन्द्र पुरोहित के आवास पर पेश किया था

कोटा: राजस्थान में कोटा के जिला एवं सत्र न्यायाधीश ने भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी बारां के पूर्व जिला कलेक्टर इंद्र सिंह राव को भ्रष्टाचार के एक मामले में गिरफ्तारी के बाद आज छह जनवरी तक के लिए न्यायिक अभिरक्षा में भेजने के आदेश दिए।

न्यायालय के आदेश पर पूछताछ के लिए एक दिन की रिमांड़ समाप्त होने के बाद ब्यूरो टीम ने आज अवकाश होने के कारण न्यायधीश योगेन्द्र पुरोहित के आवास पर पेश किया था जहां से उन्हें न्यायिक अभिरक्षा में जेल भेजने के लिए आदेश दिए गए। हालांकि ब्यूरो के अधिकारियों ने न्यायधीश से राव का नारको टेस्ट और वॉइस सैंपल की मांग की थी क्योंकि ब्यूरो का कहना था कि भारतीय प्रशासनिक सेवा के अधिकारी इंद्र सिंह राव पूछताछ में अभी भी सहयोग नहीं कर रहे हैं। राव ने भ्रष्टाचार निरोधक ब्यूरो (एसीबी) को वॉइस टेस्ट देने से भी इनकार कर दिया था।

बता दे कि बारां में जिला कलक्टर रहे और वर्तमान में एपीओ इंद्र सिंह राव को बुधवार की शाम भ्रष्टाचार निरोधक विभाग की टीम ने जयपुर में गिरफ्तार किया गया था और उन्हें कल कोटा लाकर न्यायालय के सम्मुख पेश कर तीन दिन के रिमांड की मांग की लेकिन न्यायालय में एक दिन के रिमांड की स्वीकृति दी थी।

यह भी पढ़े:

Related Articles

Back to top button