हॉकी में ओलंपिक गोल्ड मेडल जीतने की कहानी पर बेस्ड है फिल्म ‘गोल्ड’

0

नई दिल्ली: फिल्म ‘रंग दे बसंती’, ‘वीरम’ और ‘कौन कितने पानी में’ में काम कर चुके अभिनेता कुणाल कपूर ने कहा कि वह ऐसी पटकथा का हिस्सा बनना चाहते हैं, जिस पर उन्हें विश्वास हो। कुणाल ने कहा, “ऐसा नहीं है कि मैंने बहुत कम फिल्में करने का फैसला लिया है। एक कलाकार के रूप में आप ऐसे कंटेंट और फिल्मों चाहते हैं जो आपको उत्साहित करे। मेरे लिए कलाकार बनने की वजह यही है कि मुझे अभिनय और फिल्में पसंद हैं। लेकिन, मैं उन पटकथाओं का हिस्सा बनना चाहता हूं, जिन पर मैं विश्वास करता हूं।”

अभिनेता (40) ने कहा कि वह किसी फिल्म पर हामी भरने के बाद पछताना नहीं चाहते। इसीलिए उन्होंने कम फिल्में कीं। लेकिन, अब स्थिति बदली है।
उन्होंने कहा, “पिछले वर्ष, मैंने 5 फिल्मों में काम किया, जो मेरे लिए एक तरह का रिकॉर्ड ही है। मेरे पास कई प्रस्ताव आए, जो काफी रोमांचक हैं। इसलिए आप मुझे अधिक बार देख पाएंगे।”

कुणाल अगली फिल्म ‘गोल्ड’ में दिखेंगे। इसमें अक्षय कुमार मुख्य भूमिका में हैं। इसमें वर्ष 1948 में आजाद भारत के पहले ओलंपिक गोल्ड मेडल (हाकी में) जीतने की कहानी को दिखाया गया है। रीमा कागती द्वारा निर्देशित ‘गोल्ड’ में अमित साध और मॉनी रॉय जैसे कलाकार प्रमुख भूमिकाओं में हैं।
 

loading...
शेयर करें