फर्जी दस्तावेजों को लेकर BCCI हुआ सख्त, पकड़े गए तो लगेगा 2 साल का प्रतिबंध

नई दिल्ली। भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) ने खिलाड़ियों की उम्र को लेकर हो रहे फर्जीवाड़े पर विशेष ध्यान दिया है। बीसीसीआई ने कड़ा फैसला लेते हुए कहा कि अगर कोई खिलाड़ी उम्र छुपा कर खेलते हुए पकड़ा जाता है तो ऐसे खिलाड़ियों पर आपराधिक मामला दर्ज कराया जा सकता है और दो साल की पाबंदी लगा दी जाएगी।

bcciआपको बता दे कि दो साल पहले राहुल द्रविड़ ने एमएके पटोदी लेक्चर के दौरान इस मुद्दे को उठाया था। उन्होने एज फ्रॉड पर नकेल कसने की बात कही थी। उन्होने कहा था, सभी जानते हैं कि इस एक–दो साल खेल में कितना फर्क पैदा कर देते हैं। किसी भी ओवर एज प्लेय़र की वजह से हम एक ईमानदार खिलाड़ी को हमेशा के लिए खो सकते हैं।

सीईओ 18 मई में हुई मीटिंग में यह फैसला लिया है। बीसीसीआई की वेबसाइट पर इस बात की पुष्‍टि की गई है। वेबसाइट पर लिखा है कि फर्जी सर्टिफेट जमा कराके के जूनियर कैटेगरी में खेलने वाले खिलाड़ियों पर दो सीजन की पाबंदी लगाई जाएगी।

Related Articles