पति रहें सावधान! पत्नी पर दे ध्यान, वरना हो सकता ये अंजाम

डीडी नगर इलाके में एक पत्नी ने अपने आशिक के साथ मिलकर गुरुवार को अपने पति की हत्या कर दी। मामला संज्ञान में आने के बाद पुलिस ने रीवा से हत्यारिन पत्नी कंचन शुक्ला को गिरफ्तार कर लिया है।

रायपुर: जब अपने ही खून के प्यासे बन जाते है तो आप किसी बाहर के इंसान पर भरोसा नहीं कर सकते है। सात जन्मों तक साथ निभाने का वादा करने वाली पत्नी अपने ही रिश्ते क़त्ल कर बैठती है। ऐसा ही मामला छत्तीसगढ़ के रायपुर से सामने आया है, यहां के डीडी नगर इलाके में एक पत्नी ने अपने आशिक के साथ मिलकर गुरुवार को अपने पति की हत्या कर दी। मामला संज्ञान में आने के बाद पुलिस ने रीवा से हत्यारिन पत्नी कंचन शुक्ला को गिरफ्तार कर लिया है। वही हत्यारा (आशिक) हरिओम कुशवाहा अभी भी फरार है।

जानकारी के मुताबिक दो दिन पहले यानि गुरुवार को डीडी नगर इलाके में सरोना स्थित मकान में विनय चंद्र शुक्ला का शव मिला था। पुलिस ने रीवा से हत्यारिन पत्नी कंचन शुक्ला को गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस ने जब हत्यारिन पत्नी से पूछताछ की तो उसने अपने प्रेमी के साथ मिलकर पति की हत्या करना कबूला है। उसने बताया उसका मृतक विनय चंद्र शुक्ला कार शोरूम में सुरक्षा गार्ड का काम करता था। इन दोनों की काफी दिनों से एक दूसरे से नहीं बन रही थी और काफी समय से साथ में नहीं थे।

पत्नी ने आशिक के साथ घटना को दिया अंजाम

डीडी नगर थाना अंतर्गत सरोना स्थित BSUP कॉलोनी में पत्नी ने आशिक के साथ मिलकर गुरुवार को अपने पति की हत्या कर दी थी। राजधानी की पुलिस ने रीवा से हत्यारिन पत्नी कंचन शुक्ला को गिरफ्तार कर लिया है। वहीँ उसका आशिक हरिओम कुशवाहा अभी भी फरार बताया जा रहा है। पत्नी ने पुलिस की पूछताछ में अपने पुरुष मित्र के साथ हत्या करना कबूला है। आरोपी पत्नी कंचन ने बताया गुरुवार को हरिओम कुशवाहा के साथ रीवा से रायपुर अपने पति के घर पहुंची, तभी उसका पति काम करके घर पहुंचा। उसके बाद पति पत्नी में बहस हुई काफी कहासुनी हुई। पत्नी ने बताया कि पति ने उसके गले का लॉकेट छीनने की कोशिश की तभी आरोपी कंचन और उसके प्रेमी हरिओम ने उसको दीवाल पर मृतक विनय का सर दे मारा। जिससे उसकी मौके पर ही मौत हो गई।

हत्यारिन पत्नी कंचन शुक्ला

ये भी पढ़ें : फतेहाबाद में किसानों ने रिलायंस के दो पेट्रोल पंप बंद करवाए

मृतक की भतीजी ने जानकारी पुलिस को दी

इसका मृतक की भतीजी ने घटना की जानकारी पुलिस को दी थी जिसके बाद मौके पर पहुंची पुलिस ने देखा की विनय की मौत हो चुकी थी। इसके बाद पुलिस ने शुक्रवार को रीवा से कंचन को रायपुर बुलाया। पूछताछ में आरोपी पत्नी ने अपना कारनामा काबुल किया। वही आसपास पूछताछ में यह भी पता चला कि 8 दिसंबर को एक महिला और एक युवक विनय से मिलने आए थे। विनय और कंचन के बीच आपसी संबंध ठीक नहीं थे। रुपयों और गहनों को लेकर हुआ था पति-पत्नी के बीच झगड़ा

ये भी पढ़ें : कोविड-19 Warriors Award: आनंदीबेन पटेल ने ‘कहा हमें भारत को TB मुक्त करना है’

आरोपी का साथी आशिक फरार

पुलिस ने बताया कि आरोपी पत्नी ने अपने बयान में बताया है कि विनय की मौत होने के बाद हरिओम और कंचन घबरा गए थे। कंचन ने उसका मोबाइल अपने पास रख लिया, उसी घर के बाहर ताला लगाकर हरिओम के साथ रीवा भाग गई।10 दिसंबर को कंचन ने खुद विनय की भतीजी हर्षिता को फोन किया और उसके बेहोश होने की जानकारी दी। कंचन का साथी हरिओम कुशवाहा फिलहाल फरार है।

Related Articles

Back to top button