हो जाएं सावधान, कहीं ऐसे लोगों के साथ तो नहीं है आपका उठना-बैठना

बचपन से लेकर बुढ़ापे तक लोग कई दोस्त बनाते हैं। जिनमे से कुछ दोस्त बहुत ही ज्यादा साथ देते हैं तो उन्हीं में से कुछ ऐसे भी होते हैं जो बीच राह में आपका साथ छोड़ देते हैं। कहा जता है दोस्ती ऐसी चीज है जिसके संगत में लोग उन्हें के रंग में रंग जाते हैं। लेकिन आज हम आपको दोस्ती के बारे कुछ ऐसे बताने जा जिसे जानकर आपको थोड़ी हैरानी तो जरुर होगी मगर यह सच है।

दोस्ती के लिए इमेज परिणाम

कई बार आप ऐसे दोस्त बना लेते हैं जिन्हें आप चाह कर भी भूल नहीं पाते और उन्हीं में कुछ लोग आपकी दोस्ती का भी फायदा उठाते हैं। इसी के चलते महाभारत के शांतिपर्व में भीष्म पितामाह ने ऐसे लोगों के बारें में बताया है। जिनसे भूलकर भी दोस्ती नहीं करना चाहिए, नहीं तो कई समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है।

अधिक गुस्सा करने वाले- अधिक गुस्सा करने वाले लोगों से जरा दूर रहना चाहिए। इनसे दोस्ती तोड़नी भी महंगी पड़ सकती है। गुस्से में वह हमेशा नुकसान पहुंचाते है। कई बार वह मजाक का कारण भी बन जाता है। ऐसे व्य़क्ति आपके साथ-साथ परिवार को भी नुकसान पहुंचा सकते है। इसललिए कोशिश करें कि इनसे दोस्ती न करें।

नास्तिक- भीष्म पितामह ने बताया कि भूलकर भी नास्तिक लोगों से दोस्ती नहीं करनी चाहिए। क्योंकि इनके अंदर आस्था नाम की कोई चीज नहीं होती है। इसका स्वभाव झूठ बोलना, लोगों से बुरा व्यवहार करना होता है। वह खुद का जीवन तो बेकार और नरक के समान बना लेते है। अगर आप भी इनके साथ रहें तो इसी तरह आपका व्यवहार हो जाएंगा। वो कहते हैं न जैसी सांगत वैसी रंगत तो बेहतर यही गोगा की आप ऐसे लोगों से दूर रहें।

छल-कपट वाला व्यक्ति- ऐसे व्यक्ति हमेशा ही हर काम और बात में छल-कपट ही करता है। ऐसे इंशान दूसरे से जलन या द्वेष रखता है। जिसके कारण वह आपको धोखा भी दे सकता है। यहीं नहीं कई बार वो आपको नीचा और जलील करने के लिए किसी भी हद तक जा सकता है। द्वेष और जलन के कारण उन्हें सहीं और गलत ही पहचान नहीं हो पाती है। इसलिए ऐसे लोगों से दूरी बनाना ही आपके लिए बेहतर है।

नशा करने वाले लोग- ऐसे लोगों से दोस्ती नहीं करना चाहिए। जो लोग नशा करते है। उन लोगों की कोई लिमिट नहीं होती है। यह कभी भी कुछ भी कर सकते है। इन्हें अच्छे और बुरे की समझ नहीं होती है। जिसके कारण यह आपको हमेशा दुख पहुंचा सकते है। ऐसे लोगो से दूरी बनाना ही आपके लिए बेहतर है। यह लोग समाज से बहुत ही दूर रहते

Related Articles