विधानसभा चुनाव के पहले केजरीवाल को मिली राहत, याचिका को वापस लेने का किया था अनुरोध

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के खिलाफ भाजपा नेता विजेंद्र गुप्ता द्वारा दायर कराए गए मानहानि मामले में निचली अदालत ने समन जारी किया था। समन को रद करने की मांग को लेकर अरविंद केजरीवाल ने 8 जुलाई को हाई कोर्ट में याचिका दायर की थी। लेकिन विशेष अदालत में चल रही नियमित सुनवाई के चलते अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली हाई कोर्ट से इस याचिका को वापस लेने का अनुरोध किया था, जिसे दिल्ली हाई कोर्ट ने स्वीकार कर लिया है। इससे विधानसभा चुनाव के पहले केजरीवाल को राहत मिल सकती है।

याचिका वापस लेने का किया था अनुरोध 

अधिवक्ता आर अरुंधति अय्यर व अधिवक्ता मोहम्मद इरशाद के माध्यम से याचिका को वापस लेने के संबंध में आवेदन दाखिल किया गया। इसमें केजरीवाल ने कहा कि इस मामले की सुनवाई सुप्रीम कोर्ट के निर्देशों पर गठित की गई सांसद व विधायकों के लिए सुनवाई करे वाली विशेष अदालत के समक्ष लंबित है और एक साल के अंदर इसका निपटारा होना ही है। ऐसे में वह याचिका को वापस लेना चाहते हैं।

BJP नेता विजेंद्र गुप्‍ता और एनजीटी से हाई कोर्ट ने मांगा था जवाब

हाई कोर्ट ने इससे पहले याचिका पर भाजपा नेता प्रतिपक्ष विजेंद्र गुप्ता व एनजीटी से जवाब मांगा था। हालांकि, निचली अदालत द्वारा 8 जुलाई को अर¨वद केजरीवाल के खिलाफ जारी समन पर रोक लगाने से इन्कार कर दिया था।

Related Articles