IPL
IPL

Bengal Election: ‘दीदी की बौखलाहट का सबसे बड़ा कारण है 10 साल का रिपोर्ट कार्ड’

PM मोदी ममता बनर्जी पर सियासी हमला करके हुए बोले कि, दीदी की बौखलाहट का सबसे बड़ा कारण है उनका 10 साल का रिपोर्ट कार्ड

हुगली: पश्चिम बंगाल (West Bengal) विधानसभा चुनाव में जीत के लिए भारतीय जनता पार्टी (BJP) और TMC में कांटे की टक्कर है। पक्ष और विपक्ष के लोग एक-दूसरे पर सियायी हमला करने में लगे हुए हैं। अब देखना यह होगा कि 2 मई को बंगाल का राजा कौन बनता है। जनता ने किसे अपना सरदार चुना है। बंगाल में तीसरे चरण का चुनाव 6 अप्रैल को होगा।

हुगली (Hooghly) के आरामबाग में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी चुनावी जनसभा को संबोधित करते हुए बोले कि सभी अल्पसंख्यक भाइयों और बहनों से अनुरोध है कि वे अपने मत का विभाजन न होन दें।

10 साल का रिपोर्ट कार्ड

PM मोदी बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी पर सियासी हमला करके हुए बोले कि, दीदी(ममता बनर्जी) की बौखलाहट का सबसे बड़ा कारण है उनका 10 साल का रिपोर्ट कार्ड (Report Card)। दीदी आप ने काम किया है तो लोगों को बताओं। पुराने उद्योग बंद और नए उद्योगों के लिए रास्ते बंद। निवेश, व्यापार की संभावनाएं बंद। हर चरण के चुनाव के साथ दीदी(ममता बनर्जी) की बौखलाहट बढ़ती जाएगी। मुझपर गालियों की बौछार भी बढ़ती जाएगी। दीदी हार आपके सामने हैं।

डबल इंजन की सरकार

प्रधानमंत्री ने कहा कि 2 मई को यहां सिर्फ डबल इंजन की सरकार ही नहीं बनेगी बल्कि सीधा फायदा देने वाली सरकार भी बनेगी। बंगाल में BJP की सरकार आने के बाद सबसे पहले किसानों के हित में फैसला लेना होगा। पहली कैबिनेट बैठक में PM किसान सम्मान निधि को लागू करने का निर्णय लिया जाएगा।

राम के विरोध में दीदी

पश्चिम बंगाल के हावड़ा (Howrah) में उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने ममता बनर्जी पर चुनावी हमला करते हुए बोला कि, अब तो दीदी राम के विरोध में आ गई हैं, वो कहती हैं कि मुझे राम नाम से ही नफरत है। हमारे यहां कहा गया है​ कि जो राम और माता सीता का प्रिय ना हो, वो आपका कितना ही प्रिय क्यों ना हो, उसे बैरी की तरह भगा देना चाहिए।

टीएमसी (TMC) के गुंडों ने बंगाल को गुंडागर्दी और अराजकता की धरती बना दिया है। यहां परिवर्तन इसलिए भी आवश्यक है क्योंकि ममता दीदी अब तक तो भाजपा का विरोध करती थीं लेकिन अब भगवान राम का भी विरोध करने लगी हैं।

यह भी पढ़ेUPSC Recruitment 2021: UPSC के इन पदों पर निकली बम्पर वैकेंसी, नहीं देना होगा परीक्षा

Related Articles

Back to top button