रणजी ट्रॉफी 2020 के फाइनल में पहुंची बंगाल की टीम, सेमीफाइनल में कर्नाटक को किया धराशायी

Ranji Trophy 2019-20: रणजी ट्रॉफी 2019-20 का दूसरा सेमीफाइनल बंगाल क्रिकेट टीम की मेजबानी में कोलकाता के ईडन गार्डेंस स्टेडियम में खेला गया। मेजबान टीम बंगाल के सामने मजबूत कर्नाटक की टीम थी, लेकिन इस सेमीफाइनल में बंगाल ने कर्नाटक को चारों खाने चित कर दिया और 13 साल के बाद बंगाल की टीम ने रणजी ट्रॉफी के फाइनल में जगह बना ली है।

रणजी ट्रॉफी 2019-20 के सीजन में कर्नाटक टीम के कप्तान करुण नायर ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी चुनी थी। वहीं, बंगाल की टीम ने पहले बल्लेबाजी करते हुए पहली पारी में 92 ओवर बल्लेबाजी की और 312 रन बनाए। इस पारी में Anustup Majumdar ने 207 गेंदों में 149 रन की पारी खेली, जबकि आकाश दीप 44 रन बनाकर और शहबाज अहमद 35 रन बनाकर आउट हुए। वहीं, कर्नाटक की ओर से अभिमन्यु मिथुन और रोनित मोरे ने 3-3 विकेट चटकाए।

दोनों बार 200 के पार नहीं गई कर्नाटक की टीम

उधर, कर्नाटक की पहली पारी 36.2 ओवर में 122 रन पर ढेर हो गई। इस तरह पहली पारी के आधार पर कर्नाटक की टीम 190 रन से पिछड़ गई। कर्नाटक के लिए केएल राहुल ने ओपनिंग की, लेकिन वे पहली पारी में 26 रन बना सके और दूसरी पारी में बिना खाता खोले आउट हो गए। कर्नाटक की ओर के कृष्णप्पा गौतम ने 31 रन की पारी खेली। बंगाल की ओर से ईशान पोरेल ने 5 विकेट, आकाश दीप ने 3 विकेट और मुकेश कुमार ने 2 विकेट अपने नाम किए।

हालांकि, इसके बाद कर्नाटक के गेंदबाजों ने मैच में टीम की वापसी कराई और बंगाल की टीम को 161 रन पर समेट दिया, जिसमें सुदीप चटर्जी 45 रन बनाकर और पिछली पारी के शतकवीर मजूमदार 41 रन बनाकर आउट हुए। इस तरह कर्नाटक की टीम को करीब ढाई दिन में 352 रन बनाने थे, लेकिन टीम 177 रन पर ताश के पत्तों की तरह बिखर गई और मैच 174 रन से हार गई। इसी के साथ साल 2007 के बाद बंगाल की टीम ने पहली बार फाइनल में प्रवेश कर लिया।

Related Articles