Bhavina Patel, पैरालंपिक पदक जीतने वाली पहली भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी

टोक्यो : Bhavina Patel ने शुक्रवार को चल रहे टोक्यो पैरालिंपिक में भारत के लिए पहला पदक पक्का कर इतिहास रच दिया। इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें की मुकाबला उस वक्त अद्भुत हो गया जब मौजूदा चैंपियन को पछाड़ कर भावना ने सेमीफाइनल की सीट पक्की कर ली।

Bhavina Patel : एक साल की उम्र में भावना को हो गया था पोलियो

इस कड़ी में चौंतीस वर्षीय, पैरालंपिक खेलों में पोडियम पर जगह बनाने वाली पहली भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी बनीं हैं , क्योंकि उन्होंने सर्बिया की दुनिया के दूसरे नंबर की खिलाड़ी बोरिसलावा पेरीक-रैंकोविक को गेम में हरा दिया है। इस कड़ी  जानकारी के लिए बता दें की भावना ने सेमीफइनल में जीत कर देश के लिए सिल्वर पक्का कर दिया है। अब अगर भावना फाइनल जीतती है तो देश को सोने से सुसज्जित कर देंगी।

यह भी पढ़ें : अंकिता लोखंडे का देखें पवित्र रिश्ता 2.0 बारिश में भीग रही, शादी के बंधन में बंध रही

इस  जानकारी के लिए बता दें भावना को बारह महीने की उम्र में पोलियो हो गया था। वह गुजरात के मेहसाणा में सुंधिया, वडनगर में एक मध्यमवर्गीय परिवार में पली-बढ़ी हैं । चौथी कक्षा में, उसके माता-पिता उसे सर्जरी के लिए आंध्र प्रदेश के विशाखापत्तनम ले गए। लेकिन देखभाल की कमी की वजह से उनकी हालत बिगड़ गई।

यह भी पढ़ें : Himachal में टिकैत ने भरी हुंकार, सेब बागवानों की लड़ाई का एलान अब आंदोलन की नीवं हिमाचल में भी

Related Articles