भूपिंदर सिंह मान ने बाताई SC की कमेटी छोड़ने की असली वजह

सुप्रीम कोर्ट ने एक कमेटी गठित की है। वहीं किसान नेता भूपिंदर सिंह मान ने खुद को इस कमेटी से अलग कर लिया है। खुद को कमेटी से अलग करने पर भूपिंदर सिंह ने कहा कि आंदोलनकारी किसान कमेटी के समक्ष पेश नहीं होने का ऐलान कर चुके हैं, ऐसे में कमेटी में रहने का कोई तुक नहीं बनता है इसलिए मैंने कमेटी को छोड़ा है।

नई दिल्ली: हरियाणा पंजाब से आए किसानों का आंदोलन आज यानी की 51वें दिन भी जारी है। इस मसले का हल निकालने के लिए आज किसान संगठन और सरकार फिर से वार्ता करेंगे। ऐसे में सवाल यह उठ रहे हैं कि आज इस आंदोलन का कोई हल निकल पाएगा या अभी भी किसानों को सड़कों पर ही अपनी मांग के लिए लड़ना होगा।

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने एक कमेटी गठित की है। वहीं किसान नेता भूपिंदर सिंह मान ने खुद को इस कमेटी से अलग कर लिया है। खुद को कमेटी से अलग करने पर भूपिंदर सिंह ने कहा कि आंदोलनकारी किसान कमेटी के समक्ष पेश नहीं होने का ऐलान कर चुके हैं, ऐसे में कमेटी में रहने का कोई तुक नहीं बनता है इसलिए मैंने कमेटी को छोड़ा है।

यह भी पढ़ें: खेल पर निर्धारित है आज का Google Doodle, एक शिक्षक ने की थी इसकी खोज

बता दें कि सुप्रीम कोर्ट ने जिस कमेटी का गठन किया है, उसमें भूपिंदर सिंह मान भी शामिल थे। भूपिंदर सिंह मान ने चिट्ठी लिखकर खुद को समिति से अलग करने की जानकारी दी थी। पत्र में मान ने लिखा है कि वे हमेशा पंजाब और किसानों के साथ खड़े हैं। एक किसान और संगठन का नेता होने के नाते वह किसानों की भावना जानते हैं। वह किसानों और पंजाब के प्रति वफादार हैं। किसानों के हितों से कभी कोई समझौता नहीं कर सकता। वह इसके लिए कितने भी बड़े पद या सम्मान की बलि दे सकते हैं।

यह भी पढ़ें: पर्सनल लोन के नाम पर ठगी कर रहे थे Apps, Google ने की यह कार्यवाही

Related Articles