तख्तापलट विरोधी प्रदर्शनकारियों पर सेना का बड़ा हमला, बड़ी सख्या में लोगों की मौत

म्यांमार ; म्यांमार (Myanmar) में सेना द्वारा तख्तापलट के बाद से ही हालात नाजुक बने हुए है, रविवार को सरकार बहाली को लेकर सुरक्षा बलों के खिलाफ हुए विरोध प्रदर्शन में करीब 38 और लोग मारे गए हैं। सूत्रों के अनुसार असिस्टेंट एसोसिएशन फॉर पॉलिटिकल प्रिजनर्स (AAPP) के अबतक करीब 126 से ज्यादा लोग मारे जा चुके है, और दिन प्रतिदिन मरने वालों की संख्या में तेजी से वृद्धि हो रहीं है।

AAPP ने एक बयान में बताया कि सैन्य तख्तापलट के खिलाफ विरोध प्रदर्शन में अबतक तक कुल 2,156 लोगों को गिरफ्तार किया जा चुका है और करीब 1,837 लोगों पर मुक़दमा दर्ज किया जा चुका है। समूह ने बताया उनके लोगों के खिलाफ राज्य के श्वे पेई थार, दक्षिण ओक्कलपा, नॉर्थ ओकलापा, नॉर्थ डगन, साउथ डेगन, थिंगांग्युन, टम्वे, क्य मायन टाइन टाउनशिप्स, यांगून क्षेत्र, बागो सिटी, मंडलाय सिटी, लोइकवा में गोला बारूदों के साथ हमला किया गया जिसमें बड़ी संख्या में लोग हताहत हुए है।

इसे भी पढ़े ; ममता की चोट को लेकर बीजेपी का बड़ा एक्शन, सीएम की मुश्किलें बढ़ी

बता दें कि प्रदर्शनकारियों की लहर को शांत करने के लिए सुरक्षा बलों द्वारा लगातार की जा रही घातक हमले के बावजूद सैन्य तख्तापलट military coup) के खिलाफ बड़ी संख्या में लोग सड़क पर उतरे है।

लोकतांत्रिक रूप से चुनी गई सरकार को बहाल करने के लिए अंतरराष्ट्रीय दबाव बढ़ने के साथ म्यांमार (Myanmar) की जनता ने भी सरकार का समर्थन किया है। गैरकानूनी अधिग्रहण के खिलाफ विरोध प्रदर्शनों को हिंसक रूप देना जारी रखा है। कई अपदस्थ सांसदों ने भी सैन्य संगठन को आतंकवादी संगठन (Terrorist organization) के रूप में नामित किया है।

Related Articles