सीएम से भिड़ने वाली महिला टीचर को मिला बिग-बॉस का न्यौता, दिया ये जवाब

0

देहरादून: उत्तराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत से जनता दरबार में भिड़ने वाली उत्तरा पंत बहुगुणा देश भर में इन दिनों खूब सुर्खियां बटोर रही हैं। ट्रांसफर की फरियाद लेकर गई उत्तरा को भले ही सीएम ने सस्पेंशन दे दिया हो। लेकिन इस विवाद और हंगामें ने उनकी किस्मत बदल कर रख दी है। यही नहीं उनकी लोकप्रियता इस कदर बढ़ गई है कि देश के सबसे बड़े रियैलिटी शो बिग-बॉस से भी उन्हें प्रतिभागी के तौर पर शामिल होने का न्यौता मिला है।

बिग-बॉस का न्यौता ठुकराया

महिला टीचर उत्तरा पंत ने बिग-बॉस के न्यौते को यह कहते हुए ठुकरा दियाकि उन्हें अपने घर पर रह कर बच्चों का ख्याल रखना है। उन्होंने बताया कि सोमवार को उन्हें शो की निर्माताओं की ओर से फोन आया था, लेकिन उन्होंने इसके लिए मना कर दिया।

वीडियो हुआ था वायरल

आपको बता दें कुछ दिनों पहले इस महिला टीचर का विडियो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया था। इस विडियो में दिख रहा था कि सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत किस तरह उन्हें बाहर निकालने और सस्पेंड करने को कहते हैं।

इस वजह से मांग रही थी ट्रांसफर

दरअसल उत्तरा बहुगुणा उत्तराखंड के उत्तरकाशी जिले के नौगांव स्थित प्राइमरी स्कूल टीचर हैं। जहां पर वह लगभग 25 सालों से अपनी सेवा दे रही हैं।  उनके पति का निधन हो गया है। अब वह अपनी मांग को लेकर सीएम के जनता दरबार पहुंची थी, लेकिन वहां सीएम ने उनकी बात नहीं मानी जिसके कारण मामले में काफी विवाद हुआ। देखते ही देखते महिला ने सीएम को उनके दरबार में चोर-उच्चका तक कह दिया।

सीएम ने कर दिया सस्पेंड

महिला से नाराज सीएम ने उन्हें तुरंत सस्पेंड किए जाने का फरमान सुना दिया है। सीएम के साथ जनता दरबार में हुए इस पूरे विवाद का वीडियो सोशल मीडिया पर आज भी छा गया। इस वीडियो का न्यूज चैनलों पर भी खूब विश्लेषण किया गया। यहीं से महिला को लोकप्रियता भी मिली।

loading...
शेयर करें