बड़ी खबर : यहां सेना ने राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री और रक्षा मंत्री को लिया हिरासत में

माली: वेस्ट अफ्रीका के देश माली में देश की सेना ने सोमवार को अंतरिम सरकार के राष्ट्रपति Bah Ndaw, प्रधानमंत्री Moctar Ouane और रक्षा मंत्री Souleymane Doucoure को हिरासत में ले लिया है. ऐसा होना देश में बड़े तख्ता पलट के तौर पर देखा जा रहा है. इस तरह देश में एक बार फिर राजनीतिक उथल-पुथल होती दिख रही है. बता दें कि बीते वर्ष ही सेना तख्ता पलट कर
पूर्व राष्ट्रपति को पद से हटा दिया गया था. वहीँ अफ्रीका महाद्वीप में स्थित माली में सोमवार को 25 नए मंत्रियों के साथ नई सरकार का गठन हुआ है. देश के तीन सबसे अहम पदों पर काबिज लोगों की हिरासत को लोग सैन्य तख्तापलट के तौर पर देख रहे हैं.

ख़बरों के अनुसार देश के सर्वोच्च पद पर बैठे राष्ट्रपति Bah Ndaw, प्रधानमंत्री Moctar Ouane और रक्षा मंत्री Souleymane Doucoure को राजधानी बमाक के बाहर काटी में एक सैन्य ठिकाने पर ले जाया गया है. वहीँ ख़बरों के अनुसार इस घटना से ठीक 2 घंटे पहले सरकार ने पदों को लेकर फेरबदल किया, जिसमें सेना के दो सदस्यों ने अपना पद गंवा दिया. माना जा रहा है इन दोनों का ही इस ‘तख्तापलट’ में हाथ हो सकता है. प्रधानमंत्री Moctar Ouane ने बताया कि अंतरिम उपराष्ट्रपति कर्नल असिमी गोइता की सिक्योरिटी में तैनात जवान उन्हें लेने आये. वहीँ उन्होंने कहा असिमी पिछली बार सैन्य तख्तापलट करने वाली सेना का नेतृत्व कर रहे थे. ये गिरफ्तारी सोमवार को सरकार के फेरबदल की बाद की गई है.

राष्ट्रपति Bah Ndaw के गार्ड ने किया सुरक्षा करने से इंकार

मीडिया अगेंसियों की ख़बरों के मुताबिक, राष्ट्रपति Bah Ndaw के सुरक्षा कर्मी ने उनकी सुरक्षा करने से इनकार कर दिया जिसके बाद सेना उन्हें लेकर चली गई. वहीं, अंतरिम सरकार में सेना के लोगों की मुख्य भूमिका थी.

देश के बड़े इलाके पर अल-कायदा और IS का कब्जा

बता दें की इस मुल्क के बड़े हिस्से पर आतंकी संगठन अल-कायदा और IS का कब्जा है. देश के तीन प्रमुखों को हिरासत में लेने से पूर्व पिछले वर्ष राष्ट्रपति इब्राहिम बाउबकर कीटा के सैन्य तख्तापलट के बाद हुई है. इस गरीब देश की मदद के लिए पश्चिमी देशो और पड़ोसी मुल्कों ने भी मदद का हाथ बढ़ाया है, लेकिन राजनीतिक अस्थिरता और सैन्य घुसपैठ ने मदद प्रयासों को कठोर कर दिया है. इस वजह से इलाके में क्षेत्रीय असुरक्षा पैदा हो गई है.

ये भी पढ़ें : Corona महामारी : पुलिस ने कोचिंग सेंटर में मारा छापा, मिले 555 छात्र, मालिक गिरफ्तार

 

Related Articles

Back to top button