पाकिस्तान जाने वाले श्रद्धालुओं के लिए बड़ी खबर, 30 तक जमा कराए पासपोर्ट

शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति ने पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारा पंजा साहब में ख़ालसा स्थापना दिवस (बैसाखी) मनाने के लिए जाने वाले श्रद्धालुओं को अपने पासपोर्ट जमा करवाने के लिए कहा है।

अमृतसर: शिरोमणि गुरुद्वारा प्रबंधक समिति ने पाकिस्तान स्थित गुरुद्वारा पंजा साहब में ख़ालसा स्थापना दिवस (बैसाखी) मनाने के लिए जाने वाले श्रद्धालुओं को अपने पासपोर्ट जमा करवाने के लिए कहा है। बैसाखी पर पाकिस्तान के गुरुधामों के दर्शन करने जाने वाले सिख श्रद्धालुओं को 30 दिसंबर तक अपना पासपोर्ट एसजीपीसी ऑफिस में जमा करवाना होगा ताकि उनके वीजे लगवाए जा सकें।

कमेटी के मुख्य सचिव हरचरण सिंह ने पत्रकारों से बातचीत में बताया कि, इस संदर्भ में और जानकारी के लिए कमेटी के टेलीफोन नंबर-0183-2553957, 58,59 पर संपर्क कर सकते हैं।

ये भी पढ़ें : भाकियू 14 को कृषि बिल के विरोध में कलेक्ट्रेट पर करेगी धरना प्रदर्शन

एसजीपीसी के मुख्य सचिव एडवोकेट हरजिंदर सिंह ने शनिवार को बताया कि बैसाखी के अवसर पर अप्रैल माह में श्रद्धालुओं का जत्था पाकिस्तान के गुरूधामों की यात्रा के लिए जाएगा। उन्होने बताया कि एसजीपीसी के प्रधान बीबी जगीर कौर के निर्देशों अनुसार कार्यवाही शुरू कर दी है। उन्होने कहा कि श्रद्धालु 31 दिसंबर तक अपने के पासपोर्ट एसजीपीसी कार्याल में जमा करवा सकते हैं।

ये भी पढ़ें : पंचायत चुनाव परिणाम में कांग्रेस ने भाजपा को छोड़ा पीछे: ड़ोटासरा

आपको बता दे कि, वैशाख से बना है बैसाखी नाम। हरियाणा और पंजाब में ठंड के मौसम में किसान की फसल काट लेने के बाद नए साल की खुशियाँ मनाते हैं। इसीलिए बैसाखी पंजाब और आसपास के प्रदेशों का सबसे बड़ा त्योहार माना जाता है। इसी दिन, 13 अप्रैल 1699 को दसवें गुरु गोविन्द सिंह जी ने खालसा पंथ की स्थापना की थी।

Related Articles

Back to top button