सरकारी कर्मचारियों के लिए बड़ी खबर, फैमिली पेंशन का बनाया बड़ा प्लान, मिलेगी बड़ी रकम

नई दिल्ली: मोदी सरकार अब केंद्र सरकार के कर्मचारियों को बड़ा तोहफा देने वाली है। अगर पति और पत्नी दोनों केंद्र सरकार (Central Government) के कर्मचारी हैं और Central Civil Services (CCS-पेंशन), 1972 नियमों के तहत कवर हैं, तो उनके निधन के बाद उनके बच्चों को दो फैमिली पेंशन मिल सकती है।

इसकी अधिकतम सीमा 1.25 लाख रुपये तक हो सकती है। लेकिन इसके लिए भी कुछ नियम व शर्ते बनाई गई है, जिसके तहत इस पेंशन को दिया जाएगा। तभी माता-पिता की मृत्यु होने पर उनके बच्चों को दो फैमिली पेंशन मिलेगी।

केंद्रीय कर्मचारियों की पेंशन पर नए नियम

केंद्रीय सिविल सेवाएं (CCS- 1972) के नियम 54 के सब रूल (11) के मुताबिक, अगर पति-पत्नी दोनों सरकारी कर्मचारी हैं और उस नियम के तहत उनकी मृत्यु होती है तो उनके बच्चों को माता-पिता दोनों की पेंशन मिलेगी। सर्विस के दौरान या रिटायरमेंट के बाद अगर किसी एक की मौत होती है तो पेंशन जीवित पैरेंट यानी पति या पत्नी को मिलती है। दोनों की मृत्यु होने पर उनके बच्चों को दो फैमिली पेंशन मिलेगी।

पहले पेंशन पर ये था नियम

इससे पहले अगर माता-पिता की मौत होती थी तो रूल 54 के सब रूल (3) के मुताबिक बच्चों को मिलने वाली दो पेंशन की सीमा 45,000 रुपये थी, रूल 54 के सब रूल (2) के मुताबिक परिवार की दोनों पेंशन 27,000 रुपये की प्रति महीना लागू होती है। 5,000 और 27,000 रुपये पेंशन की सीमाएं छठे वेतन आयोग के मुताबिक CCS नियमों के रूल 54(11) के तहत सबसे ज्यादा भुगतान 90,000 रुपये प्रति महीना के 50 फीसदी और 30 फीसदी की दर पर हैं।

 

Related Articles