IPL
IPL

करदाताओं के लिए बड़ी खबर, नहीं भरा है GST रिटर्न तो देखें अंतिम समय

नई दिल्ली: सरकार ने माल एवं सेवा कर (GST) भरने वालों के लिए बड़ी राहत दी है। वित्त मंत्रालय ने वित्त वर्ष 2019-20 के लिये वार्षिक रिटर्न भरने की समयसीमा को अगले एक महीने के लिए बढ़ा दी गई है यानि की 31 मार्च तक के लिए बढ़ाया गया है। इससे पहले जीएसटीआर-9 (GSTR-9) भरने की समयसीमा 31 दिसंबर 2020 से बढ़ाकर 28 फरवरी 2021 कर दी गयी थी। इस तारीख के बाद अंतिम समय तक कम संख्या में जीएसटी (GST) रिटर्न दाखिल होने पर सरकार ने रिटर्न की तारीख को आगे बढ़ा दी है।

अंतिम तारीख को बढ़ाया

बढ़ाई गई तारीख को लेकर वित्त मंत्रालय ने कहा है कि समयसीमा के अंदर रिटर्न भरने में करदाताओं को आ रही समस्याओं को ध्यान में रखकर सरकार ने 2019-20 के लिये जीएसटी रिटर्न-9 और जीएसटी रिटर्न-9 सी भरने की अंतिम तारीख को बढ़ा दिया है। चुनाव आयोग की मंजूरी के साथ इस समयसीमा में यह विस्तार किया गया है। रिटर्न की अंतिम तिथि खत्म होने के बाद अगर कोई करदाता जीएसटीआर भरता है तो रिटर्न के साथ 200 रुपये का जुर्माना भरना होगा।

ये भी पढ़ें : जॉनी संग प्रियंका गांधी की तस्वीर हो रही वायरल, देखें दरियादिली

व्यापारियों को लगता है पूरा समय

अंतिम महीने के दिन कम संख्या में भरी गई जीएसटीआर को टैक्स बार एसोसिएशन ने आखिरी तारीख बढ़ाने की मांग की थी। करदाताओं का कहना है कि 14 पन्ने का वार्षिक रिटर्न का फॉर्म भरने में व्यापारियों का पूरा दिन लग जाता है। इसके अलावा तकनीकी खामियों के चलते भी पोर्टल से फॉर्म अपलोड करने से परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। जीएसटीआर-9 फार्म, कंपोजिशन स्कीम या ई-कॉमर्स ऑपरेटर्स के लिए भी रिटर्न भरना जरूरी होता है।जीएसटी भरने के अंत में आने वाला फार्म जीएसटीआर 9C है, यह फार्म सालाना 2 करोड़ रुपए से अधिक टर्न ओवर करने वाले कारोबारियों के लिए होता है।

ये भी पढ़ें : भारतीय हॉकी टीम का जर्मनी से हुआ मुकाबला, जानें किसको मिली शिकस्त

 

Related Articles

Back to top button