धनकुबेर कांड पर बड़ी खबर, पीयूष के बेटों को DGGI ने छोड़ा

डीजीजीआई अहमदाबाद की टीम ने करीब 28 घंटे की पूछताछ के बाद पीयूष जैन के दोनों बेटों को गुरुवार सुबह पांच बजे छोड़ दिया

डीजीजीआई अहमदाबाद की टीम ने करीब 28 घंटे की पूछताछ के बाद पीयूष जैन के दोनों बेटों को गुरुवार सुबह पांच बजे छोड़ दिया. फिलहाल दोनों बेटे अपनी मां के साथ घर पर हैं. डीजीजीआई की टीम मंगलवार-बुधवार की रात करीब 3 बजे कार्रवाई पूरी होने के बाद दोनों बेटों को अपने साथ ले गई थी.

आनंदपुरी वाले आवास से पकड़े गए थे दोनों

छापेमारी के बाद पीयूष जैन के सभी घरवालों के चेहरे पर हवाइयां उड़ी हुई थीं. उसके बड़े बेटे प्रत्यूष को रोते हुए देखा गया था. हालांकि कन्नौज में कार्रवाई खत्म होने पर उसके चेहरे पर मुस्कुराहट दिखाई दी थी, जो अपने आप में कई रहस्य समेटे है. पीयूष जैन का परिवार कानपुर के आनंदपुरी वाले आवास में है, जबकि माता-पिता कन्नौज वाले घर में हैं

28 घंटे से ज्यादा चली पूछताछ

डीजीजीआई अहमदाबाद की टीम ने पीयूष जैन के दोनों बेटों से भी पूछताछ की. यह पूछताछ 28 घंटे से ज्यादा चली. बुधवार सुबह कन्नौज में कार्रवाई पूरी होने के बाद अहमदाबाद की टीम दोनों बेटों को साथ ले गई थी. बताया जा रहा है कि पीयूष जैन के बेटों के नाम भी फर्म है. उसी के बारे में टीम ने पूछताछ की है. छानबीन में जब्त किए गए कागजों के आधार पर पूछताछ किए जाने की बात सामने आई है.

Related Articles