नीतीश सरकार का बड़ा बयान कहा- पटना पुलिस का सहयोग नहीं कर रही मुंबई पुलिस

सुशांत सिंह राजपूत के अत्याहत्या के मामले में हर रोज एक नये राज खुल रहे. इसके साथ ही महाराष्ट्र सरकार बार-बार यह कह रही है कि इस मामले की जांच सीबीआई नहीं बल्कि मुंबई पुलिस ही करेगी. इसके अब राजनीतिक निहितार्थ भी निकाले जाने लगे हैं. इस बीच, मुंबई पुलिस के रवैेये को लेकर भी सवाल खड़े हो रहे हैं. जबकि पटना के राजीव नगर थाने में मुकदमा दर्ज होने के बाद बिहार पुलिस ने जांच शुरू की है और एक टीम मुंबई गई है. लेकिन, आरोप लग रहे हैं कि मुंबई पुलिस जांच में बिहार पुलिस का सहयोग नहीं कर रही है.इस बीच पटना पुलिस के एक बड़े अधिकारी ने बड़ा खुलासा करते हुए कहा है कि मुंबई पुलिस के किसी अधिकारी ने बात नहीं की है.खबर यह भी है कि महाराष्ट्र पुलिस ने बिहार पुलिस को गाड़ी तक मुहैया नहीं करवाई है. वह कभी आरोपी रिया चक्रवर्ती के घर तो कभी सुशांत से जुड़ी कंपनियों के चक्कर लगा रही है और वह भी ऑटो में. अब इस मामले पर बिहार सरकार ने आधिकारिक रूप से महाराष्ट्र सरकार पर आरोप लगाया है.

बिहार सरकार के एडवोकेट जनरल ललित किशोर ने स्पष्ट रूप से कहा है कि जब एक राज्य से दूसरे में पुलिस जांच करने जाती है तो राज्य सरकार सहयोग करती है, लेकिन दुर्भाग्यपूर्ण है कि मुंबई पुलिस ऐसा नहीं कर रही है.मिली जानकारी के अनुसार, मुंबई में पटना पुलिस की टीम को भारी परेशानी हो रही है. कोरोना वायरस की वजह से मुंबई की सड़कों पर ऑटो और टैक्सी की कमी है. ऐसे में बिना गाड़ी के किसी के घर जाकर पूछताछ करने में भी दुश्वारियां पेश आ रही हैं. वहीं, मुंबई पुलिस पर आरोप है कि वह बिहार पुलिस को सहयोग नहीं कर रही है.

 

Related Articles