मथुरा पुलिस की बड़ी सफलता, 48 घंटों में किया लूट का खुलासा

मथुरा: उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में मथुरा (Mathura) जिले की वृन्दावन (Vrindavan) कोतवाली क्षेत्र स्थित एक पाॅश कालोनी से दिन दहाडे हुई आठ लाख की लूट का खुलासा पुलिस ने मात्र 48 घंटे में कर दिया है। यह लूट दो सगे भाइयों ने की थी तथा लूट का शत प्रतिशत माल बरामद कर लिया गया है।

पुलिस के अनुसार बरामद माल में जेवर, नगदी, घड़ियां, मूर्तियां, पासपोर्ट आदि शामिल हैं। पुलिस को 31 हजार 630 रूपए के नोट मिले हैं जो लुटेरे अपने साथ ले गए थे तथा वह रस्सी तक मिल गई है जिससे महिला को बांधा गया था। पुलिस के अनुसार दो जनवरी को सुनीता चावला पत्नी सतीश चावला को उनके ओमेक्स कालोनी में स्थित मकान में अभियुक्तों ने उन्हें बन्दी बना लिया था तथा मुंह पर टेप लगा दिया था और जमकर लूट की थी। घटना के समय उनके पति घर में नही थे। बाद में उन्होंने आठ लाख की लूट होने का दावा भी किया था।

एसएसपी गौरव ग्रोवर ने बताया कि दिन दहाड़े हुई इस लूट के खुलासे के लिए थाना छाता, कोतवाली वृन्दावन, सर्विलांस टीम, स्वाट टीम एवं एसओजी टीमे लगाई गई थीं। लुटेराे की सीसीटीवी से मिली फुटेज को वृन्दावन के दर्जनों लोगों को दिखाया तो कुछ ने इन सगे भाइयों को पहचान लिया जो लगभग आठ साल तक वृन्दावन में रह चुके हैं। उनकी अधिकांश शिक्षा भी वृन्दावन में हुई है।

लुटेरों के पास से तमंचा समेत कई सामग्री बरामद

पुलिस ने दोनो लुटेरों धर्मेन्द्र मिश्रा एवं लोकेन्द्र मिश्रा पुत्रगण रविकांत मिश्रा निवासी ग्वालियर हाल निवासी झांसी को रूक्मिणी विहार हरे फ्लैट थाना कोतवाली वृन्दावन से सोमवार की शाम गिरफ्तार किया तथा उनके बताए स्थान रूक्मिणी विहार में बने सरकारी आवासों में से एक आवास से सारा लूट का माल बरामद कर लिया गया। उनके पास से लूट के सारे सामान के साथ ही एक तमंचा 315 बोर एवं दो जिन्दा कारतूस तथा लूट के दौरान प्रयोग की गई मोटरसाइकिल भी बरामद की गई हैं।

 यह भी पढ़ें: उत्तर प्रदेश के रणजी ट्राफी संभावित खिलाड़ियों में रैना और भुवनेश्वर का नाम नहीं 

यह भी पढ़ें: किसानों को मिलेगा लाभ, सीएम योगी करेंगे किसान कल्याण मिशन का शुभारम्भ

 

Related Articles