बिहार उपचुनाव नतीजे: नहीं चली मोदी और नीतीश की लहर, लालू की आंधी में उड़ गई बीजेपी

0

पटना। आज उत्तर प्रदेश और बिहार की 5 सीटों पर हुए लोकसभा-विधानसभा उपचुनाव के लिए वोटों की गिनती हो रही है। इन चुनावों के लिए 11 मार्च को वोटिंग हुई थी। बिहार में अररिया, जहानाबाद और भभुआ में सुबह आठ बजे से मतगणना शुरू हो गई है। बिहार में इस बार लालू यादव और सीएम नीतीश कुमार के अलग होने के बाद पहली बार दोनों नेता आमने-सामने आए हैं।

लोकसभा-विधानसभा उपचुनाव

सभी सीटों पर कांटे की टक्कर  

बिहार में अररिया  लोकसभा सीट और जहानाबाद व भभुआ विधानसभा सीटों में जेडीयू-बीजेपी गठबंधन को बड़ा झटका लगा है। बिहार की अररिया लोकसभा सीट पर लालू यादव की पार्टी के आरजेडी उम्मीदवार सरफराज आलम 509334 वोटों से आगे रहे। वहीं, भभुआ विधानसभा सीट पर भाजपा उम्‍मीदवार रिंकी रानी पांडे ने जीत दर्ज कर ली है, कांग्रेस प्रत्‍याशी शंभु पटेल हार गए हैं। इसके अलावा, जहानाबाद से आरजेडी उम्‍मीदवार सुदय यादव भारी मतों से विजय हुए हैं और जदयू उम्‍मीदवार अभिराम शर्मा हार गए हैं।

तेजस्वी यादव का भविष्य भी तय करेगा ये चुनाव

बिहार में लोकसभा की एक तथा विधानसभा की दो सीटों पर रविवार को वोटिंग हो चुकी है। बीते साल जुलाई में राज्य के सत्ता समीकरण में बदलाव के बाद यह पहला चुनाव है। इसमें खासकर अररिया लोकसभा सीट पर भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) व राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के बीच प्रतिष्ठा की लड़ाई है। कहने के लिए यहां राजद के सरफराज आलम व भाजपा के प्रदीप सिंह मैदान में हैं, लेकिन मुख्यमंत्री नीतीश कुमार व राजद सुप्रीमो लालू प्रसाद यादव की प्रतिष्ठा दांव पर लगी है। यह चुनाव लालू प्रसाद यादव के बेटे तेजस्वी यादव का भविष्य भी तय करेगा।

 

सांसद मोहम्मद तस्लीमुद्दीन के निधन के बाद उप चुनाव कराया गया

बता दें अररिया लोकसभा उपचुनाव में 57% वोटे पड़े जबकि विधानसभा उपचुनाव में भभुआ सीट पर 54।3% और जहानाबाद में 50।6% वोड डाले गए। अररिया में 7 उम्मीदवारों का भाग्य का फैसला होगा वहीं, जहानाबाद से 14 उम्मीदवार और भभुआ में 17 उम्मीदवारों के भाग्य का फैसला होगा। अररिया से आरजेडी सांसद मोहम्मद तस्लीमुद्दीन के निधन के बाद यह इस सीट पर उप चुनाव कराया गया। इस सीट पर यहां लड़ाई मुख्य रूप से आरजेडी और बीजेपी के बीच है।

loading...
शेयर करें