बिहार: ‘साइकिल गर्ल’ ज्योति ने दोबारा जीता लोगों का दिल, गरीब बुआ की कराई शादी

लॉकडाउन के दौरान बीमार पिता को साइकिल के कैरियर पर बिठाकर गुरुग्राम से दरभंगा लाने वाली साइकिल गर्ल ज्योति ने एक बार फिर लोगों का दिल जीतने वाला काम किया है। दरअसल, ज्योति ने विभिन्न संस्थाओं से पुरस्कार के तौर पर मिली राशि से अपनी गरीब बुआ कविता की शादी कराई है। कविता की शादी समस्तीपुर जिले के खानपुर थाना क्षेत्र के नाथुद्वार गांव के शिबू पासवान के बेटे अरविंद पासवान के साथ श्यामा मंदिर में हुई।


इस शादी के लिए ज्योति ने पुरस्कार के तौर पर मिली राशि में से 50 हजार रुपये खर्च किए और अपनी गरीब चचेरी बुआ की शादी करवाकर न केवल लोगों का दिल जीता बल्कि एक सकारात्मक संदेश भी दिया है। जानकारी के अनुसार ज्योति के दादा दो भाई थे। दोनों ही दादा कारी पासवान और शिवनंदन पासवान का निधन हाे चुका है।
वहीं चचेरी दादी विधवा लीला देवी लकवाग्रस्त हैं। ज्योति ने अपनी चचेरी दादी की हालत को देखते हुए उनकी बेटी कविता कुमारी की शादी करवाने का फैसला लिया और यह बात अपने माता-पिता को बताई। इस मामले पर ज्योति के पिता मोहन पासवान ने बताया कि ज्योति ने कविता की शादी कराने का सुझाव दिया।

ज्योति ने अपने पिता से कहा कि कल तक हमारे पास कुछ नहीं था लेकिन आज जो कुछ भी है उससे एक गरीब की बेटी की शादी करवा देनी चाहिए। ज्योति के पिता ने स्वीकारा कि ज्योति के पैसे से रिश्ते में उसकी बहन कविता की शादी हो पाई है। उन्होंने कहा कि इसमें सब कुछ ज्योति का है और उन्हें अपनी बेटी पर नाज है।

 

Related Articles