ईरान में परमाणु गतिविधियों को बढ़ाने वाले बिल को मिली मंजूरी

तेहरान: ईरान की संसद ने देश के परमाणु कार्यक्रम को गति प्रदान करने के मद्देनजर एक बिल पारित किया है। जिसमें ईरान पर लगे प्रतिबंधों को हटाने की रणनीति का जिक्र किया गया है। ईरान की संसदीय समिति के प्रवक्ता अबुलफजल एमोई ने इस बात की घोषणा की है। ईरानी संसद की राष्ट्रीय सुरक्षा और विदेश नीति समिति ने इस बिल पर विस्तार से चर्चा की और इसके तीन प्रावधानों को स्वीकृति दे दी। संसद में इस बिल का 232 सदस्यों ने समर्थन किया जबकि केवल 14 ने इसका विरोध किया।

ईरान के शीर्ष परमाणु वैज्ञानिक मोहसीन फखरीजादेह की हत्या के बाद देश की परमाणु गतिविधियों को बढ़ावा देने के लिए इस बिल को काफी अहम माना जा रहा है। ईरान के दामावंद काउंटी के अबसार्द शहर में शुक्रवार को आधुनिक हथियारों से लैस आतंकवादियों ने वरिष्ठ परमाणु वैज्ञानिक मोहसीन फखरीजादेह की गोली मार कर हत्या कर दी थी।

इस बिल के मुताबिक ईरान अपनी यूरेनियम संवर्धन क्षमता को 20 प्रतिशत और उससे अधिक तक बढ़ायेगा। मौजूदा समय में ईरान की यूरेनियम संवर्धन क्षमता चार प्रतिशत के करीब है। दिग्गज परमाणु वैज्ञानिक मोहसीन फखरीजादेह ईरान के रक्षा मंत्रालय के अनुसंधान और नवाचार केन्द्र के प्रमुख थे।

पश्चिमी देशों की खुफिया एजेंसियों के मुताबिक फखरीजादेह गुप्त रूप से चलाए जा रहे ईरान के परमाणु हथियार कार्यक्रम का नेतृत्व कर रहे थे। ईरान ने हालांकि हमेशा से यह दावा किया है कि उसका परमाणु हथियार कार्यक्रम शांतिपूर्ण उद्देश्यों के लिए है। मोहसीन फखरीजादेह की हत्या ऐसे समय में हुई है जब ईरान के परमाणु कार्यक्रम के तहत यूरेनियम संवर्धन को लेकर चिंता जताई जा रही है।

यह भी पढ़ें: अफगानिस्तान से झड़प में 30 तालिबानी आतंकवादियों की मौत

Related Articles

Back to top button