दिग्विजय सिंह के बयान पर चला बीजेपी का ऐसा चाबुक, घायल हो गए जनेऊधारी राहुल गांधी

0

नई दिल्ली: अगले वर्ष होने वाले लोकसभा चुनाव के चलते केंद्र की सत्तारूढ़ भाजपा और मुख्य विक्षपी पार्टी कांग्रेस के बीच चल रही आरोप-प्रत्यारोप की जंग का ग्राफ बहुत तेजी से ऊपर उठ रहा है। इसी क्रम में भाजपा ने कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह के उस बयान पर पलटवार किया है जिसमें उन्होंने हिन्दू शब्द का जिक्र किया था। भाजपा ने दिग्विजय सिंह के इस बयान पर पलटवार करते हुए कांग्रेस पर आरोप लगाया है कि कांग्रेस पार्टी की ओर से लगातार समाज में विभाजनकारी और घृणा बढ़ाने वाले वक्तव्य दिए जा रहे हैं ।

भाजपा की ओर से यह बयान पार्टी के प्रवक्ता सुधांशु त्रिवेदी ने दिया। एक न्यूज चैनल से बातचीत करते हुए उन्होंने कहा कि दिग्विजय सिंह बार-बार हिन्दू और हिंदुत्व शब्द के तिरस्कारपूर्ण और अपमानित करने वाले बयान दे रहे हैं। उनका कहना है कि ऐसा तो कोई शब्द है ही नहीं। मैं राहुल गांधी से पूछना चाहता हूं कि अगर हिंदू शब्द नहीं है तो रणदीप सुरजेवाला ने उन्हें जनेऊधारी हिंदू कैसे कहा था।

बीजेपी नेता ने तंज करते हुए कहा कि जिस शैली और भाषा में उनके वरिष्ठ नेता बोल रहे हैं, वह सिर्फ उनके अज्ञान को ही नहीं बल्कि उनकी पार्टी के षड्यंत्र को भी दर्शाता है। दिग्विजय सिंह जैसे वरिष्ठ और प्रतिभासंपन्न नेता के पास अचूक ज्ञान है। उन्हें ओसामा में जी नजर आता है, जाकिर नायक में शांति का मसीहा नजर आता है, हाफिज में साहब नजर आता है।

सुधांशु त्रिवेदी ने कहा, इतना ही नहीं, जिन्हें अभूतपूर्व आंतरिक प्रेरणा से ज्ञान हो कि 26- 11 का हमला हाफिज सईद ने नहीं RSS ने कराया था तो उनकी और उनकी पार्टी की समझ और षड्यंत्र दोनों इससे उजागर होता है। उन्होंने कहा कि अगर दिग्विजय सिंह कहते हैं कि हिंदू शब्द नहीं है तो जवाहरलाल नेहरू की डिस्कवरी ऑफ इंडिया में पढ़ लें जहां पर हिंदू शब्द की व्याख्या की गई है। राहुल गांधी बताएं कि उनके परनाना  नेहरू के वक्तव्य से सहमत हैं या दिग्विजय सिंह से।

loading...
शेयर करें